ताज़ा खबर
 

इस एक्टर को अपनी फिल्मों में लेने के लिए कभी महीनों इंतजार करते थे डायरेक्टर्स, आज कोई पूछता तक नहीं

साल 1991 में आई फिल्म 'सौदागर' तो आपको याद ही होगी, इस फिल्म में दिलीप कुमार और राज कुमार ने एक साथ काम किया था। इन दोनों स्टार्स के अलावा इस फिल्म में एख शख्स ऐसा भी था जो इस फिल्म की वजह से रातों-रात स्टार बन गया था।
इस फिल्म में दो दोस्तों की कहानी को शानदार तरीके से दर्शाया गया था।

साल 1991 में आई फिल्म ‘सौदागर’ तो आपको याद ही होगी, इस फिल्म में दिलीप कुमार और राज कुमार ने एक साथ काम किया था। इन दोनों स्टार्स के अलावा इस फिल्म में एख शख्स ऐसा भी था जो इस फिल्म की वजह से रातों-रात स्टार बन गया था। फिल्म ने बाक्स ऑफिस पर कई रिकॉर्ड अपने नाम किए। इस फिल्म में दो दोस्तों की कहानी को शानदार तरीके से दर्शाया गया था। कहानी के अलावा इस फिल्म के सभी गाने भी सुपरहिट साबित हुए। इस फिल्म से बॉलीवुड में डेब्यू करने वाले एक्टर विवेक मुशरान को काफी फायदा मिला। फिल्म में अपनी मासूमियत और भोलेपन की वजह से यह लोगों को बेहद पसंद आए। इस फिल्म के हिट होते ही विवेक के लिए भी बॉलीवुड के दरवाजे पूरी तरह से खुल गए। डायरेक्टर्स और प्रोड्यूसर्स उनसे डेट लेने के लिए घंटों इंतजार करने लगे। लेकिन विवेक का यह स्टारडम ज्यादा दिनों तक नहीं रह पाया और कुछ दिनों बाद वो फिल्म इंडस्ट्री से बिल्कुल ही गायब हो गए। विवेक मुशरान को अपनी पहली ही फिल्म से वो स्टारडम हासिल हो गया जिसे पाने एक्टर्स को सालों लग जाते हैं।

फिल्म सौदागर के बाद विवेक मुशरान ने सांतवा आसमान, बेवफा से वफा और रामजाने जैसी कई फिल्मों में काम किया। लेकिन ये फिल्म में उनकी पहली फिल्म की तरह बाक्स ऑफिस पर अपना जादू छोड़ने में कामयाब नहीं रही। जिस वजह विवेक का क्रेज धीरे-धीरे कम होने लगा।

लगातार फिल्में फ्लॉप होने की वजह से विवेक भी बॉलीवुड से अपनी दूरी बनानी शुरू कर दी। आखिर बार वो 2015 में आई फिल्म ‘तमाशा’ नजर आए थे। एक्टिंग के अलावा विवेक ने गायी में भी अपनी किस्मत अजमाई लेकिन वो वहां भी बुरी तरह से फ्लॉप साबित हो गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.