ताज़ा खबर
 

विनोद खन्ना के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचे बॉलीवुड के यंग सितारे, नाराज ऋषि कपूर ने ट्विटर पर जताया गुस्सा

विनोद खन्ना अमर अकबर एंथनी, कुरबानी और दबंग जैसी फिल्मों के लिए हमेशा याद किए जाएंगे। बॉलीवुड के इस महान कलाकार ने गुरुवार 27 अप्रैल को आखिरी सांसें लीं।

विनोद खन्ना के अंतिम संस्कार में शामिल हुए ऋषि कपूर।

विनोद खन्ना अमर अकबर एंथनी, कुरबानी और दबंग जैसी फिल्मों के लिए हमेशा याद किए जाएंगे। बॉलीवुड के इस महान कलाकार ने गुरुवार 27 अप्रैल को आखिरी सांसें लीं। उनके अंतिम संस्कार के लिए राजनीति, क्रिकेट और बॉलीवुड जगत की कई हस्तियां आईं। लेकिन ऋषि कपूर इस मौके पर बॉलीवुड की यंग जनरेशन से थोड़े नाराज नजर आए। उन्हें इस बात का दुख था कि विनोद खन्ना के अंतिम संस्कार में यंग जनरेशन का कोई भी कलाकार उन्हें आखिरी बार देखने के लिए नहीं आया। ऋषि कपूर ने अपना गुस्सा ट्विटर के जरिए जाहिर किया।

ऋषि कपूर ने लिखा, यह शर्मनाक है कि आज की जनरेशन का कोई भी कलाकर उनके अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हुआ। जबकि उन्होंने कई के साथ काम भी किया था। सभी को सम्मान करना सीखना चाहिए। ऋषि कपूर इतने पर ही नहीं रुके उन्होंने एक और ट्वीट किया और लिखा, ऐसा क्यों? मुझे तैयार रहना चाहिए कि जब मैं मरूंगा तो कोई मुझे कंधा नहीं देगा। आज के इन सितारों के इस बर्ताव से मैं बेहद गुस्से में हूं।

HOT DEALS
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Champagne Gold
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹900 Cashback
  • Moto C Plus 16 GB 2 GB Starry Black
    ₹ 7999 MRP ₹ 7999 -0%
    ₹0 Cashback

ऋषि कपूर ने अपने एक ट्वीट में प्रियंका चोपड़ा की पार्टी का भी जिक्र किया। उन्होंने लिखा, कल प्रियंका चोपड़ा की पार्टी में कई चमचे मिले। लेकिन विनोद के अंतिम संस्कार में कम ही लोग मिले।

विनोद खन्‍ना 6 अक्‍टूबर, 1946 को पाकिस्‍तान के पेशावार में जन्‍मे थे। बंटवारे के बाद उनका परिवार मुंबई में बस गया। करीब 140 फिल्‍मों में अदाकारी के जौहर दिखाने वाले विनोद खन्‍ना को हर किस्‍म के अभिनय का माहिर माना जाता था। 1968 में फिल्‍मी दुनिया में कदम रखने के बाद, विनोद ने ज्‍यादातर सेकेंड लीड रोल या नेगेटिव भूमिकाएं कीं। अपने फिल्‍म कॅरियर के शीर्ष पर, 1982 में खन्‍ना ने तय किया कि फिल्‍म इंडस्‍ट्री छोड़ कर अपने आध्‍यात्मिक गुरु ओशो रजनीश की शरण में जाएंगे। इस वक्‍त, उनकी लोकप्रियता एंग्री यंग मैन की छवि गढ़ने वाले अमिताभ बच्‍चन से भी ज्‍यादा आंकी जाती थी। करीब 5 साल के अंतराल के बाद, विनोद हिंदी फिल्‍म इंडस्‍ट्री में वापस लौटे और ‘इंसाफ’ व ‘सत्‍यमेव जयते’ जैसी हिट फिल्‍में दीं।

 

क्या आप बाहुबली 2 के लिए तैयार हैं?

खत्म हुआ बाहुबली 2 का इंतजार; थियेटर के बाहर दर्शकों की भारी भीड़

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App