आता-जाता कुछ है नहीं, यहां आकर बोलने लगेंगे- कांग्रेस नेता से भिड़े गौरव भाटिया, जमकर हुई तू-तू, मैं-मैं

भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने अभय दुबे पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि तमीज है नहीं बात करने की, आ जाते हैं यहां बात करने।

Gaurav Bhatia BJP, BJP
भाजपा राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया(फोटो सोर्स: फेसबुक)

लखीमपुर खीरी से जुड़ा मुद्दा लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। हाल ही में कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी पंजाब व छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के साथ लखीमपुर खीरी के दौरे पर पहुंचे। इस मामले को लेकर आज तक के डिबेट शो ‘दंगल’ में भी चर्चा की गई, जहां भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए पार्टी को गिद्द बताया। इतना ही नहीं, डिबेट के बीच गौरव भाटिया कांग्रेस प्रवक्ता अभय दुबे से भी भिड़ गए और बोलने लगे कि आता-जाता कुछ है नहीं, बस बोलने के लिए आ जाते हैं।

डिबेट में भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया से सवाल किया गया था, “बिना दबाव के कोई काम नहीं बनता है क्या?” इसका जवाब देते हुए भाजपा नेता ने कहा, “लखीमपुर खीरी में जो कुछ भी हुआ, वह बहुत दुखद है। ये जो राजनीतिक गिद्द हैं, बार-बार निकलते हैं और जहां भी इस तरह की घटनाएं यूपी में होती हैं। चुनाव के मद्देनजर वहां जाकर पेट्रोल डालने का काम करते हैं।”

गौरव भाटिया का जवाब देते हुए अभय दुबे ने कहा, “पीएम मोदी के लिए कह रहा हूं कि मौन साधने का अर्थ होता है, स्वीकृति देना। ये कह रहे हैं कि पेट्रोल डालकर आग लगाने का काम करते हैं, अरे हमने देखा है जब रात के 2 बजे बलात्कार की पीड़िता बच्ची को पेट्रोल डालकर पुलिस ने आग लगा दी। उस बच्ची के पिता पुलिस अभिरक्षा में हत्या कर दी गई थी। पोस्ट मार्टम में कहा गया था कि बलात्कार नहीं हुआ।”

वहीं गौरव भाटिया ने कांग्रेस पार्टी पर तंज कसते हुए कहा, “हो सकता है कि यह राजस्थान की बात कर रहे हों, जहां मुख्यमंत्री गहलोत कह देते हैं कि बलात्कार छोटा है या बड़ा है। क्या लाशों के ऊपर यह राजनीतिक इमारत बनाना चाहते हैं।” भाजपा प्रवक्ता की बातों के बीच कांग्रेस नेता का बोलना लगातार जारी रहा, जिसे लेकर वह काफी भड़क गए।

गौरव भाटिया ने अभय दुबे पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, “ओ मिस्टर अभय चुप हो जाइये, आप लोगों को तमीज नहीं है बात करने की।” वहीं अभय दुबे ने जवाब देते हुए कहा, “आप चुप करिए, लाशों के ढेर लगा दिये हैं जगह-जगह।” वहीं भाजपा प्रवक्ता ने कहा, “इटालियन के मुसोलिनी हैं क्या आप, राजस्थान में बलात्कार के मामले सबसे ज्यादा हैं। मांगो अशोक गहलोत से इस्तीफा। आता-जाता कुछ है नहीं, यहां बात करने के लिए आ जाते हैं।”

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।