दूसरी पार्टियों में मंथन होता है तो टमाटर की मार होती है- BJP कार्यकारिणी की बैठक पर बोले संबित पात्रा तो SP नेता ने दिया ये जवाब

बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक पर बोलते हुए संबित पात्रा ने कहा कि दूसरी पार्टियों में ऐसा मंथन होता है तो टमाटर की मार होती है।

sambit patra, anurag bhadouria, aaj tak debate show
अनुराग भदौरिया ने डिबेट के दौरान संबित पात्रा पर निशाना साधा (Photo-File)

भारतीय जनता पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक रविवार को हुई जिसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने किया। नरेंद्र मोदी ने कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित भी किया। पीएम ने कहा कि सेवा ही सबसे बड़ी पूजा है और इस कोरोना काल में कार्यकर्ताओं ने सेवा की नई संस्कृति की शुरुआत की है। इसी दौरान पीएम ने ये भी कहा कि देश की राजनीति में बीजेपी ने जो मुकाम हासिल किया है, उसका एक बड़ा कारण जनता से उसका जुड़ाव है। बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक पर बोलते हुए संबित पात्रा ने कहा कि दूसरी पार्टियों में ऐसा मंथन होता है तो टमाटर की मार होती है।

आज तक के डिबेट शो, ‘हल्ला बोल’ में बोलते हुए संबित पात्रा ने कहा, ‘सबसे बड़ी बात है कि 6 घंटे तक भारतीय जनता पार्टी देश के विभिन्न कोनों से जुड़ते हुए मंथन कर सकती है, ये अपने आप में बड़ा विषय है। दूसरी राजनीतिक पार्टियों की स्थिति आप देखिए…ये मंथन दूसरी पॉलिटिकल पार्टी में हो नहीं सकती है, मंथन होता है टमाटर की मार होती है। मैं तो पहले धन्यवाद करता हूं, किस प्रकार से भारतीय जनता पार्टी लोकतांत्रिक तरीके से मंथन करती है। ये अपने आप में केस स्टडी है।’

उनकी इस बात पर समाजवादी पार्टी प्रवक्ता ने कहा, ’भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता कह रहे थे कि अपने आप में केस स्टडी है ये। जहां हिमाचल से आपके राष्ट्रीय अध्यक्ष जी आते हैं, वहां आप सारी सीटें हार जाते हैं, केस स्टडी ही तो है ये। मंडी की सीट आप साढ़े तीन लाख सीटों से जीते थे, अब बुरी तरह हार गए, केस स्टडी तो है ये। विधानसभा भी हार गए, केस स्टडी ही तो है ये।’

उन्होंने आगे कहा, ‘पहली बार ऐसा देखा गया कि लखीमपुर से जो सांसद हैं, जो इनके बहुत प्रिय हैं, जिनके बेटे श्री लोगों को रौंद देते हैं, जिनके ऊपर मुकदमे भी हैं फिर भी वो गृह राज्य मंत्री बने हुए हैं, ये केस स्टडी ही तो है। और फिर वो गृह मंत्री के बगल में खड़े दिखते हैं, ये केस स्टडी ही तो है। भारतीय जनता पार्टी में केस स्टडी का जवाब नहीं है।’

अनुराग भदौरिया ने ईंधन तेलों और खाद्यान्नों की महंगाई पर बीजेपी को घेरते हुए आगे कहा, ‘ये कह रहे थे कि डीजल पेट्रोल की कीमत सरकार के पास कम करने को नहीं होता तो पहले 2014 में पेट्रोल के लिए क्यों हंगामा करते थे कि सरकार कम क्यों नहीं कर रही है? तब भी तो सरकार के पास कुछ नहीं था। आप लगातार पेट्रोल डीजल की कीमत बढ़ा रहे थे, एक दिन कम कर दिया। समुद्र से एक लोटा पानी निकालने की बात आप कर रहे हो, जो महंगाई आपने बढ़ाई है। आलू, प्याज, सरसों का तेल तक महंगा है। गरीब दीया नहीं जला पाया दिवाली में।’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
सेक्स रैकेट में गिरफ्तार हुई ‘मकड़ी’ बाल कलाकार श्वेता बसु
अपडेट