ताज़ा खबर
 

रिक्शावाला भी हेलीकॉप्टर से आएगा?- जब चुनाव में रवि किशन, मनोज तिवारी आए हेलीकॉप्टर से, निरहुआ ने की मांग तो सुननी पड़ी थी ये बात

साल 2019 में झारखंड विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए एक कार्यक्रम में दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' को बुलाया गया था लेकिन वो कार्यक्रम रद्द करना पड़ा था। हुआ ये कि रवि किशन और मनोज तिवारी के लिए तो हेलीकॉप्टर का इंतजाम किया गया लेकिन...

dinesh lal yadav nirahua, ravi kishan, manoj tiwariनिरहुआ पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी की तरफ से चुनाव लड़े थे (Photo-Nirahua/Instagram)

दिनेश लाल यादव फिल्म ‘निरहुआ रिक्शावाला’ से रातों रात स्टार बन गए और भोजपुरी सिनेमा के दर्शकों के दिलों में बस गए थे। उन्हें ‘निरहुआ’ के किरदार से इतनी लोकप्रियता मिली कि दर्शक उन्हें उनके नाम से नहीं बल्कि ‘निरहुआ’ नाम से ही जानने लगे। इसी नाम से उनकी कई फिल्में भी बनी जो जबरदस्त हिट रहीं। दिनेश लाल यादव के निरहुआ के किरदार ने पूर्वांचल के आम लोगों और गरीब मजदूर वर्ग से भी उन्हें बखूबी जोड़ा। उनके इसी इमेज की वजह से एक बार चुनाव प्रचार के दौरान उनके लिए हेलीकॉप्टर का इंतजाम नहीं किया गया जबकि रवि किशन और मनोज तिवारी के लिए किया गया था। इस किस्से का जिक्र दिनेश लाल ने कपिल शर्मा शो पर किया था।

साल 2019 में झारखंड विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए एक कार्यक्रम में निरहुआ को बुलाया गया था लेकिन वो कार्यक्रम रद्द करना पड़ा था। ऐसा इसलिए क्योंकि उनके लिए हेलीकॉप्टर का इंतजाम नहीं किया गया था। जब उन्होंने इसका कारण पूछा तो जो जवाब मिला वो बड़ा ही मजेदार था।

कपिल शर्मा ने उनसे पूछा कि आपसे अर्चना जी का एक सवाल है कि निरहुआ जब भी आते हैं रिक्शा पर क्यों आते हैं? जवाब में दिनेश लाल यादव ने उस घटना के बारे में बताया था, ‘रिक्शा से तो ऐसा नाता जुड़ गया है कि अब मैं क्या बताऊं। अभी झारखंड में चुनाव चल रहा था। वहां प्रचार में जाना था। कार्यक्रम के लिए सब आयोजन हो चुका था और कार्यक्रम रद्द करना पड़ा क्योंकि मैं पहुंचा ही नहीं।’

 

दिनेश लाल यादव ने आगे बताया, ‘मैं इंतजार कर रहा था कि मुझे लेकर जाएंगे लोग। एक हेलीकॉप्टर रवि भईया (रवि किशन) को दे दिए, एक मनोज तिवारी जी को दे दिए। फिर किसी ने पूछा वो आया नहीं, निरहुआ। मुझे फोन किया गया तो मैंने कहा हमारे लिए तो यहां हेलीकॉप्टर है ही नहीं। फिर वो कह रहे हैं कि रिक्शावाला भी अब हेलीकॉप्टर से आएगा।’

 

दिनेश लाल यादव ने 27 मार्च 2019 को लोकसभा चुनावों से ठीक यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में  बीजेपी की सदस्यता ली थी। उन्हें पार्टी की तरफ से लोकसभा चुनाव लड़ने का भी मौका मिला। वो अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ से चुनावी मैदान में उतरे थे। चुनाव प्रचार के दौरान उनके कुछ बयानों पर विवाद भी हुआ था। सिनेमा जगत में तो वो हिट रहे लेकिन राजनीति में लोगों ने उन्हें ज़्यादा पसंद नहीं किया और वो चुनाव हार गए थे।

Next Stories
1 जब रवि किशन को कहा गया ‘सस्ता मिथुन चक्रवर्ती’, फिल्में देने से किया गया इंकार; ऐसे मिली थी पहली पिक्चर
2 रोजी-रोटी की तलाश में दिल्ली आए थे मनोज तिवारी, आश्रम में 3 सालों तक बनाईं थीं रोटियां; इंटरव्यू में किया था खुलासा
3 बेटी को हॉस्पिटल से लाने के लिए रवि किशन को लेने पड़े थे ब्याज पर पैसे, पुराने दिनों को याद कर भावुक हुए भोजपुरी स्टार
यह पढ़ा क्या?
X