ताज़ा खबर
 

PMC घोटाले में मेरी फिल्मों की कमाई डूब गई- लोकसभा ने रवि किशन ने उठाया मुद्दा, पूछा- मैं कहां गुहार लगाऊं?

लोकसभा में बोलते हुए रवि किशन ने कि कहा कि पंजाब- महाराष्ट्र सहकारी बैंक में उन्होंने अपने फिल्मों से हुई कमाई को जमा किया था लेकिन पीएमसी घोटाले में उनका पैसा डूब गया। उन्होंने पूछा कि मैं कहां....

ravi kishan, pmc scam, ravi kishan on pmc scamरवि किशन ने कहा है कि PMC घोटाले में उनके पैसे भी डूबे हैं (Photo-Ravi Kishan/Instagram)

भोजपुरी फिल्मों के जाने माने एक्टर, बीजेपी सांसद रवि किशन ने आज लोकसभा में PMC बैंक के घोटाले का मुद्दा उठाया और कहा कि इस घोटाले में उनके भी पैसे डूब गए हैं। रवि किशन ने बताया कि पंजाब- महाराष्ट्र सहकारी बैंक में उनका अकाउंट है जिसमें उन्होंने अपने फिल्मों से हुई कमाई को जमा किया था लेकिन पीएमसी घोटाले में उनका पैसा डूब गया। लोकसभा में बोलते हुए रवि किशन ने महाराष्ट्र के ताजा घटनाक्रम पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जिस प्रकार महाराष्ट्र सरकार उगाही कर रही है उसी तरह गरीबों का पैसा भी वसूली करके वापस किया जाए।

लोकसभा में बोलते हुए गोरखपुर सांसद रवि किशन ने कहा, ‘महाराष्ट्र में एक बैंक घोटाला हुआ पंजाब- महाराष्ट्र बैंक जिसमें मेरे पैसे भी थे। मेरे मेहनत की, शुरुआती फिल्म इंडस्ट्री की सारी जमा पूंजी उसमें थी। 9 लाख परिवारों के पैसे वहां डूब गए। 18 महीने हो गए, हमें हमारे पैसे नहीं मिलेंगे। ये राज्य सरकार के जिम्मे आता है, मैं जानता हूं, लेकिन मैं कहां गुहार लगाऊं?’

रवि किशन ने आगे कहा, ‘सारे खाताधारी लोग हमें ट्वीट कर रहे हैं, मुझे मैसेज कर रहे हैं। बहुत सारे फिल्म इंडस्ट्री वाले हैं, छोटे कलाकार हैं गरीब कलाकार हैं।’ रवि किशन ने कहा कि बैंक घोटाले एक साजिश के तहत किए जाते हैं। उन्होंने बताया, ‘देश या विदेश में जितने भी बैंक फ्रॉड होते हैं पूरी प्लानिंग के साथ साजिश होती है। बैंक का जो मैनेजर होता है, उसका बड़े बिल्डरों से संबंध होता है। वो उनके अकाउंट को अप्रूव करता है। इसके बदले उसे बहुत कुछ मिलता है।’

 

रवि किशन ने महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘जैसे महाराष्ट्र सरकार वसूली कर रही है, उसी तरह से हम गरीबों का भी पैसा वापस किया जाए।’

 

पीएमसी घोटाले का मामला तब सामने आया था जब एक व्हिसल ब्लोअर ने भारतीय रिजर्व बैंक को बताया कि पीएमसी बैंक मुंबई के एक रियल इस्टेट डेवलपर को 6500 करोड़ रुपए नकली बैंक खाते कर उपयोग कर दे रही है। इसके बाद आरबीआई ने सितंबर 2019 में पैसे निकालने की अधिकतम सीमा 50 हजार रुपए कर दी थी। इस घोटाले के सामने आने के बाद लाखों खाताधारकों के पैसे डूब गए। कई लोगों ने तो आत्महत्या कर ली और कुछ सदमे से अबतक उबर नहीं पाए हैं।

Next Stories
1 खेसारी-अक्षरा के शो से पहले बेकाबू भीड़ ने की पत्थरबाजी, प्रोग्राम करना पड़ा रद्द, खेसारी लाल ने लाइव आकर कही ये बात
2 आपसे नए लोग क्या सीखेंगे, सही बर्ताव करना सीखें- भोजपुरी इंडस्ट्री में चल रहे विवाद पर बोलीं रानी चटर्जी, खेसारी लाल को दी नसीहत
3 महाराज जी ने यूपी में इतनी सुविधा कर दी कि मुंबई से अधिक फिल्में यहां बनेगी- बोले दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’
ये पढ़ा क्या?
X