ताज़ा खबर
 

Khesari Lal Yadav बच्चों का हाल जानने पहुंचे मुजफ्फरपुर के अस्पताल, लोग लेने लगे सेल्फी

खेसारी लाल यादव को फैंस की भारी भीड़ के चलते एसकेएमसीएच अस्पताल से बाहर निकालने में खासी परेशानी हुई। इसके बाद पुलिस फ़ोर्स को बुलवाकर हालात को काबू किया गया।

Author मुजफ्फरपुर | June 20, 2019 2:12 PM
भोजपुरी स्टार खेसारी लाल यादव फोटो सोर्स- फेसबुक

Muzaffarpur: बिहार के मुजफ्फरपुर में एईएस (चमकी बुखार) से अब तक 150 से अधिक बच्चों की मौत हो चुकी है। ऐसे में एसकेएमसीएच अस्पताल में नेताओं, मंत्रियों समेत कई बड़े लोगों का आना-जाना भी शुरू हो गया है। इस बीच भोजपुरी (Bhojpuri) स्टार खेसारी लाल यादव (khesari lal yadav) भी बच्चों का हाल जानने और उनके परिजनों से मिलने एसकेएमसीएच पहुंचे तो फैन्स की भीड़ ने उन्हें घेर लिया। इस दौरान कई लोग अस्पताल परिसर में ही उनके साथ सेल्फी लेते दिखे। इससे कुछ देर तक वहां अफरातफरी का माहौल बन गया। बताया जा रहा है कि अस्पताल में भीड़ इस कदर बढ़ गई थी की मौके पर खुद सिटी एसपी को आना पड़ा। इस दौरान शांति-व्यवस्था को बनाए रखने में सुरक्षाकर्मियों के पसीने छूट गए।

National Hindi News, 20 June 2019 LIVE Updates: दिन भर की तमाम बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

अस्पताल में खेसारी को फैंस ने घेरा: दरअसल, मुजफ्फरपुर के SKMCH अस्पताल में लगातार चमकी बुखार से बच्चों की मौत हो आ रही है। इसके चलते हाल ही में सीएम नीतीश कुमार, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन समेत छोटे बड़े नेता अस्पताल का दौरा कर रहे हैं। इस बीच खेसारी लाल यादव भी बच्चों का हाल जानने गुरुवार (20 जून) को अस्पताल पहुंचे। लेकिन इस दौरान जैसे ही फैंस की नजर उनपर पर पड़ी तो भारी भीड़ जुट गई। इस दौरान लोगों में खेसारी के साथ सेल्फी लेने की होड़ मच गई। जिसके चलते सुरक्षा के मद्देनजर वहां मौजूद कर्मियों ने गेट को बंद कर दिया। बताया जा रहा है कि इस दौरान अस्पताल में मीडियाकर्मियों की एंट्री पर भी रोक लगा दी गई।

पुलिस के छूटे पसीने: बता दें कि खेसारी लाल यादव को भारी भीड़ के चलते एसकेएमसीएच से बाहर निकालने में पुलिस को खासी परेशानी हुई। हालांकि सिटी एसपी जब हालात को काबू करने पहुंचे तो लोगों की भीड़ काम हुई और हालात को सामान्य किया जा सका। इस दौरान व्यवस्था को सही ढंग बनाए रखने में सुरक्षाकर्मियों के पसीने छूट गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App