ताज़ा खबर
 

बॉलीवुड के चमकते चेहरों के पीछे छिपी कमाई की भद्दी सोच

मुंबई फिल्मजगत में इन दिनों दो घटनाओं की चर्चा है। टी सीरीज के प्रमुख भूषण कुमार पर एक महिला द्वारा लगाया गया यौन शोषण का आरोप और राज कुंद्रा की कथित पोर्न फिल्म कारोबार में संलिप्तता।

राज कुंद्रा।

मुंबई फिल्मजगत में इन दिनों दो घटनाओं की चर्चा है। टी सीरीज के प्रमुख भूषण कुमार पर एक महिला द्वारा लगाया गया यौन शोषण का आरोप और राज कुंद्रा की कथित पोर्न फिल्म कारोबार में संलिप्तता। भूषण कुमार की कंपनी ने महिला के आरोपों को खारिज किया और उसे ब्लैकमेल करना बताया है। दूसरी ओर राज कुंद्रा के वकील ने अदालत में दी सफाई में कथित पोर्न फिल्म निर्माण से इनकार नहीं किया है मगर कहा कि वे जिस तरह की फिल्में बना रहे थे, उन्हें पोर्न नहीं वल्गर (अभद्र, अशालीन, अशिष्ट) कहा जा सकता है। मादक पदार्थ मामलों में तलाशी और गिरफ्तारी से निकल रहे बॉलीवुड में दोनों ही घटनाओं का कोई विशेष असर देखने को नहीं मिला है।

राज कुंद्रा और भूषण कुमार के मामलों पर बॉलीवुड की प्रतिक्रिया ‘जोर का झटका धीरे से लगा’ किस्म की है। इसकी वजह यह है कि बॉलीवुड से कुंद्रा का ज्यादा जुड़ाव नहीं है। वे अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति हैं। 2012 में उन्होंने संजय दत्त के साथ मिलकर ‘सुपर फाइट लीग’ शुरू की थी। बस इतना भर है। इससे पहले कुंद्रा ने 2009 में आइपीए की राजस्थान रॉयल में निवेश किया था। स्पॉट फिक्सिंग मामले में दिल्ली पुलिस 2013 में उनसे पूछताछ कर चुकी है। उन्हें इस मामले में क्लीन चिट मिल चुकी है।

कथित पोर्न फिल्म निर्माण से कुंद्रा का जुड़ाव कोरोना काल में हुआ। पुलिस ने संवाददाता सम्मेलन में कहा है कि कुंद्रा के दफ्तर में ऐसी फिल्मों की शूटिंग की जाती थी। फिल्मों में करिअर बनाने के लिए आने वाली नई लड़कियों को इन फिल्मों में काम मिल जाता था। कंटेट तैयार करने के बाद लंदन भेजा जाता था, जहां से उन्हें लोड किया जाता था। इस कारोबार में रोजाना छह से आठ लाख रुपए की कमाई होती थी। पुलिस का कहना है कि कुंद्रा के खिलाफ पहली बार शिकायत पूनम पांडे ने 2019 में की थी। फरवरी 2021 में पुलिस ने मड आइलैंड के एक बंगले पर छापा मारा जहां पोर्न फिल्में बनाई जाती थीं। एक महिला की शिकायत पर राज कुंद्रा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। तभी से कुंद्रा पुलिस के निशाने पर थे। आखिर 19 जुलाई को पूछताछ के बाद कुंद्रा को गिरफ्तार कर लिया गया। मगर इसकी बॉलीवुड में कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई क्योंकि कुंद्रा सीधे बॉलीवुड से नहीं जुड़े थे।

भूषण कुमार पर लगा आरोप गंभीर है, जिसकी वे सफाई दे चुके हैं। मामले में पुलिस शिकायत दर्ज की जा चुकी है और उन्हें अपनी निर्दोषता साबित करनी है। भूषण इस समय कई कंपनियों के साथ मिलकर चोटी के सितारों को लेकर करोड़ों रुपए लागत से 20 के आसपास फिल्में बना रहे हैं। जाहिर है भूषण के साथ इन फिल्मों और इनमें निवेश करने वाली दूसरी कंपनियों का भविष्य भी इस मामले के बाद सीधे प्रभावित होता है। इसलिए बॉलीवुड में हंगामा होना स्वाभाविक था। मगर ऐसा हुआ नहीं। याद कीजिए सलमान खान के चिंकारा कांड की। संजय दत्त के मुंबई बम धमाके में गिरफ्तारी की। या भरतभाई शाह की अंडरवर्ल्ड के पैसों को बॉलीवुड में निवेश करने के आरोप में गिरफ्तारी की। तब बॉलीवुड हिल गया था। कई फिल्मों का भविष्य दांव पर लगा था। शाह की गिरफ्तारी पर तो यहां तक कहा गया था कि अब मुंबई फिल्म इंडस्ट्री बैठ जाएगी क्योंकि ज्यादातर फिल्मों में शाह का पैसा लगा हुआ है। जितनी फिल्में शाह तब बना रहे थे, उससे दो गुनी फिल्मों इस समय टी सीरीज बना रही है। उसके प्रमुख भूषण कुमार पर गंभीर आरोप हैं, मगर बॉलीवुड में शांति है। क्या बॉलीवुड वक्त के साथ बदल चुका है?

Next Stories
1 फिल्मजगत का डर, छिन जाएगी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता
2 आयकर विभाग को ही सभी अखबारों का संपादक बना दो- भास्कर पर छापे के बाद बोले रवीश कुमार, लोग कर रहे इमरजेंसी से तुलना
3 मेरे बेटे को ज़रा संभाल के थप्पड़ मारना! जब तेजी बच्चन से ये बातें सुन डर गईं वहीदा रहमान, अमिताभ को पड़े थे कई थप्पड़
आज का राशिफल
X