Babul Supriyo shared his struggle story in an interview, Kalyanji gave him first break - मुंबई में संघर्ष: छह महीने तक कोशिश करने के बाद कल्‍याण जी से हो पाई थी बाबुल सुप्रियो की बात - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मुंबई में संघर्ष: छह महीने तक कोशिश करने के बाद कल्‍याण जी से हो पाई थी बाबुल सुप्रियो की बात

बाबुल सुप्रियो एक फिल्मी परिवार से नहीं है। इसके बावजूद उन्होंने इस इंडस्ट्री में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। 20 साल में अपने करियर की शुरुआत करने वाले इस सिंगर को पहला ब्रेक कल्याणजी ने दिया था।

Author नई दिल्ली | February 22, 2018 2:19 PM
केंद्रीय मंत्री और गायक बाबुल सुप्रियो।

बाबुल सुप्रियो को बॉलीवुड में उनके कई बहेतरीन गानों के लिए जाना जाता है। उनके गाए बाजीगर ओ बाजीगर, सोचता हूं उसका दिल, हटा सावन की घटा जैसे कई सुपरहिट गाने आज भी दर्शकों की जुबान पर हैं। बाबुल सुप्रियो एक फिल्मी परिवार से नहीं है। इसके बावजूद उन्होंने इस इंडस्ट्री में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। 20 साल में अपने करियर की शुरुआत करने वाले इस सिंगर को पहली जॉब बैंक में चार्टेड अकाउंटेंट के रूप में मिली थी, लेकिन बाबुल ने वह जॉब ठुकराते हुए म्यूजिक में अपना करियर बनाना चाहा। उनका पूरा परिवार इसके खिलाफ था लेकिन उन्होंने किसी की नहीं सुनी और मुंबई म्यूजिक में करियर बनाने के लिए निकल पड़े।

एक इंटरव्यू के दौरान बाबुल सुप्रियो ने अपने स्ट्रिग्लिंग के दिनों का जिक्र किया। उन्होंने बताया कि, ‘हावड़ा स्टेशन पर उनकी मां उन्हें टिफिन देते हुए बोलीं कि जा रहा है तो कम से कम ये लेकर जा’। उन्होंने बताया कि, ‘मैंने एक सेकेंड हैंड कॉल डायरेक्ट्री ले रखी थी। महीनों मैं म्यूजिक डायरेक्टर को फोन करता था। वो लोग कभी टॉयलेट में होने की बात करते तो कभी नहाने की। मैं एसिक नगर में बालकनी में रहता था। मैंने परिवार में किसी से पैसे नहीं लिए थे’। यहां उन्होंने आगे बताया कि, ‘मैं फोन करने के लिए बूथ की लंबी कतार में लगा रहता था। वहां पर हर स्ट्रगलर को सिर्फ दो बार कॉल करने की मंजूरी थी इसके बाद आपको फिर लाइन छोड़कर दोबारा लगना होता था’।

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो हवाई को सफर में हुआ था प्यार, दो मिनट की बात से शुरू हुई थी लव स्‍टोरी

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि वह छह महीने तक संगीत निर्देशक कल्याण जी को कॉल करता था लेकिन वह कभी फोन नहीं उठाते थे। एक दिन उन्होंने फोन उठाया और मैंने उन्हें एक बार मुझे सुनने के लिए कहा। उन्होंने तुरंत बुलाया और मुझे पहली बार मौका मिला। बाबुल सुप्रियो को 1993 में अमिताभ बच्चन के वर्ल्ड टूअर में पहली बार गाने का मौका मिला था।

बता दें बाबुल सुप्रियो हाल ही में फिल्म ‘वेलकम टू न्यूयॉर्क’ के गाने ‘इश्तेहार’ को लेकर चर्चा में बने हुए हैं। उन्होंने फिल्म से इस गाने को हटाने की मांगी की थी। फिल्म के इस गाने को पाकिस्तानी सिंगर राहत फतेह अली खान ने अपनी आवाज दी है। गाना दर्शकों में काफी हिट भी हो चुका है। इस गाने को लेकर उनका कहना था कि भारत-पाक के बीच तनाव बढ़ा हुआ है इसके बावजूद हम सीमा पार प्रतिभा क्यों तलाश रहे हैं।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App