ताज़ा खबर
 

कुलभूषण जाधव मुद्दे पर टिप्पणी के लिये आपको जानकार होना चाहिये: सुशांत सिंह

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने आज पाकिस्तानी सैन्य अदालत द्वारा भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को सुनाई गयी मौत की सजा पर कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

सुशांत का यह पोस्ट देखने पर पता चलता है कि वह अपनी मां को कितना याद करते हैं।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने आज पाकिस्तानी सैन्य अदालत द्वारा भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को सुनाई गयी मौत की सजा पर कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। सुशांत ने कहा कि ऐसे ‘‘संवेदनशील’’ मुद्दे पर टिप्पणी के लिये आपको ‘‘सुविज्ञ’’ होना चाहिये।
राजपूत की मुख्य भूमिका वाली फिल्म ‘‘राब्ता’’ की टीम ने यहां फिल्म के ट्रेलर लॉन्च के मौके पर जाधव से जुड़े सवाल को टालते हुये कहा कि यह ऐसी विषय पर टिप्पणी के लिये सही मंच नहीं।   एक पत्रकार ने जब जोर देकर कहा कि उन्हें सवाल का जवाब देना चाहिये तो राजपूत ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि कोई किसी विषय से सुविज्ञ नहीं है तो उसे उस पर अपनी राय नहीं देनी चाहिये…क्योंकि यह संवेदनशील चीज है। आपको बेहद जानकार होना चाहिये। मुझे थोड़ा वक्त दीजिये।    उन्होंने कहा, ‘‘यह कहने के लिये कि हां निंदा करता हूं या नहीं करता हूं, आपको इतना जिम्मेदार होना चाहिये कि आप उससे जुड़े तथ्यों को जानते हों।’

जब राब्ता फिल्म के निर्माता और स्टार्स ट्रेलर लॉन्च के मौके पर पहुंचे तो शायद उन्हें शायद इस बात का अंदाजा नहीं रहा होगा कि यह कार्यक्रम इस तरह से सुर्खियां बटोरेगा। दरअसल कार्यक्रम के दौरान फिल्म के लीड हीरो सुशांत एक पत्रकार से भिड़ गए। इसके पीछे कारण रहे पाकिस्तान की जेल में कैद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव। जिन्हें कि पाकिस्तानी कोर्ट ने में मौत की सजा सुनाई है। जब सुशांत से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा- कोई इस मामले की निन्दा या फिर कुछ भी तब कर सकता है जब उसे इसके बारे में पता हो। किसी पब्लिक फिगर से यह अपेक्षा रखना महत्वपूर्ण क्यों है कि उसे हर मामला पता ही होगा?

इसके बाद जब सुशांत से देश में चल रही फेयरनेस क्रीम डिबेट और नेपोटिज्म पर टिप्पणी करने के लिए कहा गया तो उन्होंने कहा कि एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हमें किसी एक स्किन कलर को एंडोर्स नहीं करना चाहिए। जिन लोगों को नहीं पता उन्हें बता दे कि अभय देओल ने फेसबुक के जरिए फेयरनेस ब्रांड्स को एंडोर्स करने वाले सेलेब्स पर निशाना साधा है। इस लिस्ट में शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण, सोनम कपूर, शाहिद कपूर शामिल हैं। गोरी और काले रंग पर अपने विचार रखते हुए अभय ने कहा, फेयरनेस क्रीम के एड ना केवल बिना सोचे समझे कुछ भी दावे करते हैं। बल्कि यह आइडिया बेचते हैं कि गोरा रंग काले रंग से बेहतर है।

इन कंपनियों के टॉप पर बैठे कोई अधिकारी आपको यह नहीं बताएंगे कि यह गलत और नस्लीय हैं। अभय ने कहा, आप लोगों को इस आइडिया को स्वीकार करना बंद करना चाहिए कि किसी एक प्रकार की त्वचा दूसरी से बेहतर है। दुर्भाग्य की बात है कि अगर आप मैट्रीमोनियल साइट्स पर भी देखें तो किसी के शरीर की बनावट और रंग के बारे में किस तरह बताया जाता है।

किसी की त्वचा के रंग को बताने के लिए डस्क शब्द का इस्तेमाल किया जाता है। अभय केवल इतने में ही नहीं रुके। इसके बाद उन्होंने एक के बाद एक स्टार्स की तस्वीरें शेयर कीं। जिनमें वह अलग-अलग प्रोडक्ट्स के लिए मॉडलिंग करते दिख रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 जैकलीन फर्नांडिस बनीं कारोबारी, जानिए शाहरुख, सुष्मिता, सुनील, जॉन और ये बाकी बॉलीवुड स्टार्स करते हैं क्या बिजनेस?
2 ‘फास्ट एंड फ्यूरियस’ में सिर्फ गाड़ियों पर खर्च हुए 51 करोड़ डॉलर
3 ट्विंकल खन्ना ने कहा- पापा राजेश खन्ना हमेशा से जानते थे कि मैं लेखक बनूंगी