scorecardresearch

यही लोग अंबानी-अडानी को आगे नहीं बढ़ाना चाहते- बंगाल-महाराष्ट्र की सरकारों ने दिया एलन मस्क को न्योता तो बिफरे फिल्ममेकर

फिल्ममेकर अशोक पंडित ने उन राज्य सरकारों पर निशाना साधा है, जिन्होंने टेस्ला को अपने यहां आमंत्रित किया है।

Alon Musk, Tesla, Ashok Pandit
टेस्ला के सीईओ एलन मस्क को कई राज्य सरकारों ने न्योता दिया था। (Image source: Bloomberg)

टेस्ला (Tesla) के सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) को देश की कई राज्य सरकारों ने अपने यहां इन्वेस्टमेंट का ऑफर दिया है। इसमें मुंबई से लेकर पश्चिम बंगाल तक की सरकारों के मंत्री शामिल हैं। मंत्रियों के ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा छिड़ गई। फिल्ममेकर अशोक पंडित (Ashok Pandit) भी इस चर्चा में कूद पड़े और उन्होंने राज्य सरकारों पर निशाना साधा।

अशोक पंडित ने मंत्रियों के ट्वीट को साझा करते हुए चुटकी ली और कहा कि ये सभी जो एलन मस्क को न्यौता दे रहे हैं, इन्हें पीएम मोदी पर भरोसा नहीं है। पंडित ने ये भी लिखा कि ये लोग अंबानी और अडानी जैसे भारतीय बिजनेसमैन को आगे नहीं बढ़ाना चाहते हैं। पंडित ने ट्वीट किया, “मोदी जी को कमतर आंकने का सबसे बेहतरीन उदाहरण… ये सब वही लोग हैं जो अंबानी और अडानी को आगे नहीं बढ़ाना चाहते हैं।”

बता दें, फिल्ममेकर अशोक पंडित ने पत्रकार शिव अरूर के एक ट्वीट को साझा किया था। इस ट्वीट में तमाम मंत्रियों के एलन मस्क को न्योते वाले ट्वीट के स्क्रीनशॉट का कोलाज बनाया गया है। तस्वीर में तेलंगाना के मंत्री, पंजाब से नवजोत सिंह सिद्धू, तमिलनाडु के नेता, महाराष्ट्र से जयंत पाटिल और पश्चिम बंगाल के मंत्री गुलाम रब्बानी के ट्वीट दिख रहे हैं। इन सभी ने टेस्ला के सीईओ एलन मस्क को अपने राज्य में आने और इन्वेस्टमेंट का न्योता दिया है।

ये है पूरा मामला?: टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने कुछ दिनों पहले ट्वीट किया था, “अभी भी भारत सरकार के साथ काफी सारी चुनौतियों-मुद्दों पर काम करना पड़ा रहा है।” इसके बाद से ही अलग अलग राज्य के मंत्री एलन मस्क को अपने यहां इन्वेस्टमेंट के ऑफर्स देने लगे।

बता दें कि एलन मस्क ने पहले कहा था कि भारत में कारों के लिए आयात शुल्क सबसे अधिक हैं और चाहते हैं कि पहले यह कम हो, जिससे टेस्ला इंडिया लॉन्च योजनाएं शुरू की जाए।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट