ताज़ा खबर
 

…तो इस वजह से कभी स्कूल नहीं गईं आशा भोसले, फिर लता मंगेशकर का स्‍कूल भी छुड़वा दिया

Asha Bhosle Birthday: आशा ने अपने परिवार में शुरू से ही संगीत का माहौल देखा था लेकिन तब तक उनके मन में ऐसा नहीं था कि वह भी कभी एक प्लेबैक सिंगर बनेंगीं। पिता दीनानाथ मंगेश्कर गायिकी के सम्राट थे। ऐसे में वह बेटी लता मंगेशकर को बचपन से गायकी की शिक्षा दे रहे थे।

आशा भोसले (फोटोसोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

सुरों की मल्लिका आशा भोसले 8 सितंबर 1933 को जन्मीं। आशा ने अपने परिवार में शुरू से ही संगीत का माहौल देखा था लेकिन तब तक उनके मन में ऐसा नहीं था कि वह भी कभी एक प्लेबैक सिंगर बनेंगीं। पिता दीनानाथ मंगेश्कर गायिकी के सम्राट थे। ऐसे में वह बेटी लता मंगेशकर को बचपन से गायकी की शिक्षा दे रहे थे। आशा हमेशा उन्हें रियाज करती देखती थीं। एक बार लता मंगेशकर स्कूल जा रही थीं। तभी छोटी बहन आशा भी उनके साथ स्कूल जाने के लिए तैयार हो गईं। उस वक्त सिर्फ लता मंगेशकर ही स्कूल जाया करती थीं।

वहीं आशा बहुत छोटी थीं। ऐसे में लता आशा को अपने साथ अपने स्कूल लेकर चली गईं। स्कूल पहुंची तो मास्टर जी ने दोनों बहनों को साथ देखा। मास्टर जी ने देखते ही उन्हें डांट दिया। साथ ही मास्टर जी ने कहा कि एक बच्चे की फीस में दो बच्चों की पढ़ाई नहीं हो सकती। मास्टर जी की डांट सुनकर दोनों बहने रोते हुए घर वापस आ गईं। जब पिता दीनानाथ मंगेशकर ने ये बात सुनी तो उन्हें बहुत बुरा लगा कि स्कूल में उन्की बेटियों को रुलाया गया। ऐसे में पिता ने ये कहा कि वह अपनी बच्चियों को ऐसे स्कूल में नहीं भेजेंगे जहां मास्टर जी उन्हें रुला देते हैं। इसके बाद दोनों बहनों की पढा़ई लिखाई घर में ही शुरू करवाई गई।

HOT DEALS
  • BRANDSDADDY BD MAGIC Plus 16 GB (Black)
    ₹ 16199 MRP ₹ 16999 -5%
    ₹1620 Cashback
  • Sony Xperia XA Dual 16 GB (White)
    ₹ 15940 MRP ₹ 18990 -16%
    ₹1594 Cashback
आशा भोसले (फोटोसोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

बता दें, आशा भोंसले ने हिंदी सिनेमा के गानों में अपनी जादूई आवाज देकर श्रोताओं के दिल में अपनी एक खास जगह बनाई। उनके ये गाने सदाबहार हैं जो आज भी सुने जाते हैं। आशा अब तक हिंदी और नॉन फिल्में गाने मिलाकर कुल 16 हजार के करीब गाने गा चुकी हैं। दुनिया भर में आशा ताई के फैन्स मौजूद हैं। हिंदी के अलावा आशा ताई ने मराठी, बंगाली, गुजराती, पंजाबी, भोजपुरी, तमिल, मलयालम, अंग्रेजी और रूसी भाषा में भी गाने गए हैं। आशा भोसले ने अपने करियर का पहला गाना साल 1948 में फिल्म ‘चुनरिया’ में गाया था। आशा शास्त्रीय संगीत के अलावा, गजल और पॉप म्यूजिक टाइप गाने भी गाती हैं। आशा भोंसले ने आर. डी बर्मन से शादी की थी।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App