Anupam kher said political parties are politicising issue of Gurmehar Kaur to get political mileage - अनुपम खेर ने गुरमेहर विवाद पर खुलकर रखी अपनी बात वहीं अमिताभ बच्चन रहे चुप - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अनुपम खेर ने गुरमेहर विवाद पर खुलकर रखी अपनी बात वहीं अमिताभ बच्चन रहे चुप

मीडिया से बात करते हुए 61 साल के एक्टर ने कहा कि जो भी आर्मी ऑफिसर की बेटी कहना चाहती है उसका मतलब है कि वो युद्ध नहीं चाहती।

Author नई दिल्ली | March 3, 2017 7:40 PM
अमिताभ बचच्न ने साधी चुप्पी तो अनुपम खेर ने गुरमेहर कौर विवाद पर खुलकर की बात (Image Source: Indian Express)

अनुपम खेर ने विपक्षी पार्टियों पर गुरमेहर कौर वाले मामले का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कहा कि राजनीतिक पार्टियां दिल्ली विश्वविद्यालय के लेडी श्री राम कॉलेज की छात्रा गुरमेहर कौर के विवाद को इसलिए उठा रहे हैं ताकि इससे राजनीतिक लाभ मिल सके। मीडिया से बात करते हुए 61 साल के एक्टर ने कहा कि जो भी आर्मी ऑफिसर की बेटी कहना चाहती है उसका मतलब है कि वो युद्ध नहीं चाहती। हमारे देश में हर सैनिक बॉर्डर की सुरक्षा के लिए यहां मौजूद हैं। उसके मामले को राजनीतिक एंगल देकर बढ़ाया जा रहा है। जिन चेहरों ने अतीत में मुद्दों का राजनीतिकरण किया था वो इससे राजनीतिक लाभ ले रहे हैं। हर कोई इन राजनीतिक पार्टियों और लोगों से परिचित है। एक्टर ने आगे कहा कि विपक्षी दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अच्छे कामों को पचा नहीं पा रहे हैं और इसीलिए वो लड़ने और विरोध करने के नए मुद्दे ढूंढ रहे हैं।

वहीं अमिताभ बच्चन ने इस मामले पर कोई कमेंट नहीं किया। सरकार 3 के ट्रेलर लॉन्च के दौरान जब उनसे इस मामले पर राय पूछी गई तो उन्होंने कहा- मैं इसके बारे में जो महसूस करता हूं वो निजी है अगर मैं आपको बता दूंगा तो वो पब्लिक हो जाएगा। गुरमेहर कौर कारगिल शहीद कैप्टन मंदीप सिंह की बेटी हैं। एबीवीपी के खिलाफ अपने अभियान की वजह से वो विवादों में आई थीं जिसकी वजह से उन्हें बलात्कार की धमकियां मिली थीं। यह मामला तब हुआ जब जेएनयू के विवादित छात्र उमर खालिद को रामजस कॉलेज के एक इवेंट में बोलना था और एबीवीपी के ने इवेंट को कैंसिल किए जाने का विरोध कर रहे स्टूडेंट्स को मारना और बाहर निकालना शुरू कर दिया था।

बता दें कि दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा गुरमेहर कौर ने बुधवार को कहा कि वह अब अपनी पढ़ाई पर ध्यान देना चाहती हैं। इसके साथ ही उन्होंने मीडियाकर्मियों से अपील की कि उन्हें अकेला छोड़ दिया जाए। गुरमेहर कौर जब से दिल्ली से जालंधर पहुंची है, तब से मीडियाकर्मी विशेषकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार लगातार गुरमेहर कौर के घर के बाहर मौजूद हैं।

जालंधर पुलिस कमिश्नरेट ने उसे सुरक्षा मुहैया करवाई है। दो महिला कांस्टेबल उनकी सुरक्षा में लगाई गई हैं। जिन्होंने गुरमेहर को जान से मारने और रेप करने की धमकी दी थी, उन अज्ञातों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने यौन शोषण का मामला दर्ज कर लिया है।

एंटरटेनमेंट की दूसरी बड़ी खबरों के लिए क्लिक करें

गुरमेहर विवाद: जावेद अख्तर ने सहवाग को महान खिलाड़ी कहा, वापस लिए अपने शब्द

अमिताभ बच्चन ने कहा- "मेरे मरने के बाद मेरे बेटा-बेटी के बीच संपत्ति का बराबर बंटवारा होगा"

DU बचाओ कैंपेन से अलग हुई गुरमेहर कौर; कहा- "मुझे अकेला छोड़ दो"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App