scorecardresearch

राघव चड्ढा ने कहा- कांग्रेस अब वेंटिलेटर पर तो अनुभव सिन्हा बोले- इसी तरह 20 साल से सुन रहा हूं ‘तीनों खानों का टाइम खत्म’

Anubhav Sinha: ट्विटर पर शेयर किए जा रहे इस वीडियो पर ढेरों रिएक्शन आए वहीं वीडियो पर फिल्म डायरेक्टर अनुभव सिन्हा ने भी रिएक्शन दिया।

राघव चड्ढा ने कहा- कांग्रेस अब वेंटिलेटर पर तो अनुभव सिन्हा बोले- इसी तरह 20 साल से सुन रहा हूं ‘तीनों खानों का टाइम खत्म’
फिल्ममेकर अनुभव सिन्हा

Anubhav Sinha: राजस्थान में कांग्रेस की हालत खराब होने के बाद आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता राघव चड्ढा ने कांग्रेस पार्टी पर तंज कसा। राघव चड्ढा का एक ट्वीट खूब वायरल हो रहा है जिसमें वह कांग्रेस की नाकामियों के बारे में बात करते हुए कहते हैं कि कांग्रेस पार्टी का अंत अब समीप है। ट्विटर पर शेयर किए जा रहे इस वीडियो पर ढेरों रिएक्शन आए वहीं वीडियो पर फिल्म डायरेक्टर अनुभव सिन्हा ने भी रिएक्शन दिया।

आप पार्टी के प्रवक्ता ने कहा- ‘कांग्रेस पार्टी इस समय वेटिलेटर पर है, अपनी आखिरी सांसे गिन रही है। मृत्यु की तरफ अग्रसर है। औऱ कोई इलाज कोई प्लाजमा थैरिपी, कोई हाइड्रोक्लोरोक्विन, कोई रेम डेसिवियर दवाई अब कांग्रेस को उसकी अंतिम यात्रा से बचा नहीं सकती। कांग्रेस इस देश में बूढ़ी, बिखरती, समाप्त होती पार्टी बन चुकी है।’

राघव चड्ढा के इस बयान पर जवाब देते हुए अनुभव सिन्हा ने कहा- ‘मैं 20 सालों से ये सुन रहा हूं। तीनों खानों का टाइम खत्म!’ अनुभव सिन्हा के जवाब पर भी लोगों ने रिएक्ट करना शुरू कर दिया। एक ने कहा- ‘सबकी आखिरी फिल्म देख लो दो कौड़ी। आज का सिर्फ एक ही किंग है अक्षय कुमार।’ एक ने कहा- ‘पिद्दी का कमेंट आया फटाफट कि फिर चाटूंगा किसकी अगर कांग्रेस को कुछ हो गया तो?’

एक ने लिखा- ‘सही उदाहरण दिए हैं। ये जुम्मा जुम्मा चार दिन से राजनीति में आई पार्टी के छुटकन नेता बोल रहे हैं। कांग्रेस का टाइम ख़त्म। इतना हास्यास्पद है न।’ एक यूजर बोला- ‘एक यूजर बोलता -ओल्ड इज गोल्ड। हम जानते हैं कि कैसे एक पार्टी काम करती है। हमेशा उसमें इंप्रूव करने की गुंजाइश रहती है। हमने नई तरह की पार्टियों का स्टाइल भी देखा है। पुरानी ही ठीक निकली।’ एक अन्य ने कहा- ‘जैसे बीजेपी बहुत नयापन दिखा रही है। वो तो झूठ, घूसखोरी और कम्यूनल टेंशन की नई ऊंचाइयां छू रही है। शर्म करो।’

तो वहीं एक यूजर बोल पड़ा- ‘कल की जन्मी पार्टी अपने दादा के आदर्श को बेबकुफ़ बता सकती है। क्योंकि इसे यह बात मालूम पड़ चुकी है कि देश में आज तक सिर्फ कांग्रेस का विरोध कर सैकड़ों पार्टी और हजारों नेता अपनी मौज उड़ा रहे हैं।’

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 17-07-2020 at 09:03:18 am