हर चीज को नाक की लड़ाई बना लेते हैं, जांच से क्यों भागते हैं आप लोग? अंजना ओम कश्यप ने किये तीखे सवाल, BJP नेता ने दिया ये जवाब

पेगासस को लेकर अंजना ओम कश्यप ने भाजपा प्रवक्ता से भी जमकर सवाल किये। उन्होंने कहा कि आप लोग जांच से भाग कैसे सकते हैं?

Spyware Pegasus, Ravish Kumar, NDTV
पेगासस के जरिये कथित जासूसी पर सियासी घमासान मच गया है। (Photo- Indian Express)

पेगासस से जुड़ा मुद्दा तूल पकड़ता जा रहा है। एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक इसके जरिए भारत में मंत्रियों, पत्रकारों और संघ के नेताओं की निगरानी की गई है। पेगासस को लेकर फ्रांस ने भी जांच के आदेश दे दिये हैं। इस मुद्दे को लेकर अंजना ओम कश्यप के शो ‘हल्ला बोल’ में भी चर्चा की गई। डिबेट के दौरान अंजना ओम कश्यप ने भाजपा प्रवक्ता से जमकर तीखे सवाल किये। न्यूज ऐंकर ने कहा कि आप लोग हर चीज को नाम की लड़ाई क्यों बना लेते हैं। हालांकि उनका जवाब देने से भाजपा प्रवक्ता प्रेम शुक्ला भी पीछे नहीं हटे।

अंजना ओम कश्यप ने डिबेट के दौरान भाजपा प्रवक्ता से सवाल किया, “फ्रांस सरकार से लेकर तमाम देशों की सरकार ने अपने-अपने देश में जांच शुरू कर दी है। लेकिन आप लोग हर चीज को नाक की लड़ाई क्यों बना लेते हैं? जांच से कैसे भाग सकते हैं आप लोग?”

अंजना ओम कश्यप ने भाजपा प्रवक्ता प्रेम शुक्ला से आगे पूछा, “जो मुद्दा देश की संसद में उठ रहा है, जिसका जवाब देने के लिए खुद संचार मंत्री भी खड़े हुए थे, हालांकि इसपर मनोजीत बताएंगे कि पेपर फाड़ने से कौन सी मर्यादा उन्होंने रखी है। लेकिन आप लोग जांच से क्यों भागते हैं?”


न्यूज ऐंकर अंजना ओम कश्यप के सवालों का जवाब देते हुए भाजपा प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने कहा, “कोई कपोल कल्पित जासूसी उपन्यास पढ़कर आए और आरोप लगाने लगे। अपराधिक कृत्यों में शामिल एजेंसी एमनेस्टी इंटरनेशनल अगर भारत विरोधी कुछ चीज लाना चाहे तो उसके आधार पर आप कुछ भी जांच के लिए खड़ा कर देंगे।”

भाजपा प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने विपक्ष पर तंज कसते हुए आगे कहा, “संसद में जब राष्ट्र के विकास के संदर्भ में चर्चा का कोई समय आता है तो एक व्यक्ति हैं, जो कपोल कल्पित कहानियां लेकर आ जाते हैं। राहुल गांधी तो राफैल मामले पर सीजेआई के आदेश को भी नहीं मानते।

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए प्रेम शुक्ला ने आगे कहा, “उन्हें भारत की सीबीआई पर भरोसा नहीं, ईडी पर भरोसा नहीं, एनआईए पर भरोसा नहीं, तो क्या उन्हें अपने आप पर भरोसा है क्या? इटैलिक एजेंसी ले आएं क्या जांच कराने के लिए?”

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट