ताज़ा खबर
 

शाहिद-मीरा के बेटी मीशा से मिलने पहुंची आलिया भट्ट

बद्रीनाथ की दुल्हनिया की शूटिंग के लिए सिंगापुर निकलने से पहले आलिया टाइम निकाल कर शाहिद के घर पहुंची।

शाहिद ने जुलाई 2015 में मीरा राजपूत से शादी की थी और 2016 में इस क्यूट कपल के घर मीशा का जन्म हुआ। शाहिद ने कहा आज वे अपनी बेटी कुछ और तस्वीरें शेयर करेंगे।

शानदार फिल्म में साथ काम करने के बाद शाहिद कपूर और आलिया भट्ट अच्छे दोस्त बन गए हैं। आलिया ने भी शाहद से दोस्ती का पूरा फर्ज निभाया और हाल ही में उनकी बेटी मीशा से मिलने उनके घर पहुंची थीं। बद्रीनाथ की दुल्हनिया की शूटिंग के लिए सिंगापुर निकलने से पहले आलिया टाइम निकाल कर शाहिद के घर पहुंची। खबर है कि आलिया ने कपूर फैमिली के साथ लंच किया और मीशा के साथ कुछ टाइम बिताया।

शाहिद कपूर और मीरा राजपूत की बेटी का नाम मीशा होने के पीछे भी एक खास वजह है। सूत्रों के मुताबिक मम्मी-डैडी ने मिलकर क्यूट बिटिया का नाम ‘मिशा’ रखा है। इस नाम का मतलब होता है ईश्वर के समान। साथ ही यह नाम इसलिए भी चुना गया क्योंकि यह मीरा कपूर ने नाम से ‘मी’ और शाहिद कपूर के नाम ने ‘शा’ लेकर बनाया गया है। जिसका मतलब हुआ कि ‘मीशा’, मीरा और शाहिद कपूर का अंश है। इस बात की पुष्टि कुछ इस तरह भी होती है कि आज (19 सितंबर) दोपहर 12 बजे शाहिद कपूर ने ट्वीट किया- मीशा कपूर ने पापा का कहीं भी जाना असंभव बना दिया है।

शाहिद और मीरा के घर में यह नन्हीं परी इसी साल 26 अगस्त को आई थी। शाहिद ने इस बात की खबर ट्वीट करके अपने फैन्स और बॉलीवुड मित्रों को दी थी। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से लिखा था- वह आ गई है और अपनी खुशी व्यक्त करने के लिए हमें यह दुनिया छोटी पड़ गई है। आप सभी की शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद। गौरतलब है कि हाल ही में अभिनेत्री रानी मुखर्जी और आदित्य चोपड़ा ने शाहिद की बेटी का नाम ‘अदीरा’ रखा था जो कि वर्तमान नाम की ही तरह बेटी के मां-बाप के नाम से बनाया गया है। बता दें कि हाल ही में ऐसी खबरें आई थीं कि शाहिद और मीरा राधा स्वामी सतसंग में गए थे और आशीर्वाद लिया था। खबरों के मुताबिक दोनों चाहते थे कि गुरुजी उनकी बेटी का नामकरण करें।

Read Also:Happy birthday: वकील बनना चाहती थीं करीना, शाहिद के लिए छोड़ दिया था नॉनवेज खाना

Read Also:इस शख्स ने 4 हफ्ते पहले बता दिया था शाहिद कपूर और मीरा राजपूत की बेटी का नाम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App