After Padmaavat Protest Karni Sena backs with Brahmin Mahasabha for protest against Kangana Ranaut up coming movie Manikarnika - मुश्किल में कंगना की 'मणिकर्णिका', ब्राह्मण महासभा के विरोध को अब करणी सेना का समर्थन - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मुश्किल में कंगना की ‘मणिकर्णिका’, ब्राह्मण महासभा के विरोध को अब करणी सेना का समर्थन

कंगना रनौत की अपकमिंग फिल्म मणिकर्णिका पर आरोप लगाया जा रहा है कि कंगना की पीरियोडिक फिल्म में झांसी की रानी को गलत दिखाया गया है। वहीं अब पद्मावक का विरोध करने वाली करणी सेना भी ब्राह्मणों के समर्थन में आगे आ रही है।

मणिकर्णिका में कंगना रनौत

‘पद्मावत’ पर अपना विरोध प्रकट करने के बाद अब करणी सेना ब्राह्मण महासभा के विरोध को समर्थन दे रही है। दरअसल, ब्राह्मण महासभा कंगना रनौत की फिल्म ‘मणिकर्णिका’ को लेकर विरोध कर रही है। फिल्म पर आरोप लगाया जा रहा है कि कंगना की पीरियोडिक फिल्म में झांसी की रानी को गलत दिखाया गया है। इस पर अब राजपूत करणी सेना के फाउंडर लोकेंद्र सिंह काल्वी ने कहा है कि अगर ब्राह्मण का खून बहेगा तो राजपूत क्या चुप रहेगा। जब राजपूतों का खून बहा तो ब्राह्मण कभी चुप नहीं रहा। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि 10,000 ब्राह्मणों ने एक पत्र में अपने खून से साइन कर ‘पद्मावत’ के वक्त रिलीज के लिए हमारे संग विरोध किया था।

उन्होंने कहा कि हमने सरकार से इस फिल्म की प्री स्क्रीनिंग बोर्ड के सेटअप की बात की है। इसमें देखा जाएगा कि फिल्म में किसी भी एतिहासिक तथ्य के साथ छेड़छाड़ न की गई हो। वहीं फिल्म के मेकर्स ने मंगलवार को कहा कि फिल्म में किसी भी एतिहासिक तथ्य को नजरअंदाज नहीं किया गया है। फिल्म में ऐसा कुछ नहीं है जिससे किसी को आपत्ति हो।

शादी को 10 साल पूरे होने पर ऐसे जश्न मना रहे संजय-मान्यता

बता दें, सर्व ब्राह्मण महासभा ने फिल्म ‘मणिकर्णिका’ के मेकर्स से फिल्म की डिटेल्स शेयर करने के लिए कहा था। वहीं फिल्म के प्रोड्यूसर कमल जैन ने अपने स्टेटमेंट में कहा कि फिल्म में रानी लक्ष्मी बाई के किरदार को बहुत ही जिम्मेदारी के साथ फिल्माया गया है। रानी लक्ष्मी बाई एक स्वतंत्रता सेनानी थीं। देश भर में उनका सम्मान किया जाता है। फिल्म की कहानी इसी पर बेस्ड है। फिल्म में रानी लक्ष्मी बाई का किरदार कंगना रनौत निभा रही हैं।

https://www.jansatta.com/entertainment/

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App