ताज़ा खबर
 

NSD के दिनों में जीशान अय्यूब की खूब होती थी रैगिंग, उतारने पड़ते थे कपड़े

मुरारी का रोल निभाने वाले एक्टर का पूरा नाम है- मोहम्मद जीशान अय्यूब। वह दिल्ली में पले बढ़े हैं। डीयू के किरोड़ीमल...

‘रांझणा’ का मुरारी याद है? धनुष के साथ पूरी फिल्म में रहता है। स्कूटर से लेकर उसकी शेरवानी तक ढोता है। प्यार के पंचर होने के दौरान उन्हें समझाता है। मौका लगता है, तो मौज भी ले लेता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, असल जिंदगी में मुरारी का किरदार निभाने वाले एक्टर की कॉलेज में कह कर मौज ली जाती थी। उनकी रैंगिंग होती थी। बंद कमरे में उन्हें गालियां देने के लिए कहा जाता था। कपड़े उतरवाए जाते थे।

मुरारी का रोल निभाने वाले एक्टर का पूरा नाम है- मोहम्मद जीशान अय्यूब। वह दिल्ली में पले बढ़े हैं। डीयू के किरोड़ीमल कॉलेज से ग्रैजुएट हैं। इसी दौरान नाटक वगैरह करने लगे थे। पढ़ाई में खासा मन न लगा, तो एक्टिंग की दुनिया में पहुंचे। नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (एनएसडी) में दाखिला लिया। पहली बार में नहीं हुआ, लेकिन हार न मानी। दूसरी बार फिर फॉर्म भरा और इस बार दाखिला पाया।

एक न्यूज़ साइट को दिए इंटरव्यू में उन्होंने इस बात का खुलासा किया। कहा कि एनएसडी में वह रैगिंग के खिलाफ खड़े हो गए थे। उनके टाइम पर बहुत रैगिंग होती थी। वैसे यह उनके लिए बड़ी मजेदार थी। उन्हें खास फर्क नहीं पड़ा। कपड़े उतरवाना आम बात थी।

जीशान के मुताबिक सीनियर्स जब कहते थे, तो हम एक बार में सारे कपड़े उतार देते थे। हमारी इस आदत के चलते उन्होंने सजा तक उलट दी थी। फिर वह इस बात पर हमें कपड़े नहीं उतारने देते थे। हालांकि, इस दौरान उनका एक दोस्त इस बात से घबरा कर एनएसडी से एक रात के लिए भाग गया था। वह नई दिल्ली स्टेशन चला गया था।

जीशान जब सेकेंड इयर में थे, तो उन्होंने रैगिंग के खिलाफ आवाज उठाई थी। उन्हें तब कमरे में ले जाकर कराई जाने वाली रैगिंग से दिक्कत थी। क्रिएटिव वाले को लेकर कोई दिक्कत नहीं थी। थर्ड इयर में आए, तो सोचा कि किसी तरह की रैगिंग नहीं होने देंगे। इस पर कई साथियों ने आड़े हाथ लिया। उनसे यह तक कहा गया कि हॉस्टल से दूर नहीं है एनएसडी का रास्ता।

जीशान समीर से पहले रईस और ट्यूबलाइट में सपोर्टिंग रोल्स में दिखाई दिए थे। समीर में बतौर लीड भूमिका निभाने के बाद उनकी फिल्म ठग्स ऑफ हिंदोस्तान रिलीज होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App