ताज़ा खबर
 

‘मुहर्रम में गणेश पूजा..कुछ तो शर्म करो शाहरुख’, इस फोटो पर SRK को कर रहे ट्रोल

शाहरुख खान ने तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि 'मेरे बेटे ने गणपित बप्पा को आवाज दी और वो मेरे घर पर आ गए।' शाहरुख खान के घर भगवान गणेश की पूजा-अर्चना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद कई लोगों ने इसकी जमकर प्रशंसा की है। हालांकि वहीं कुछ लोग धर्म के नाम पर शाहरुख खान को ट्रोल करने की कोशिश भी कर रहे हैं।

शाहरुख खान।

सभी तरफ गणेश उत्सव की धूम है। लोग पूजा-पाठ कर भगवान गणेश को प्रसन्न करने और उनका आशीर्वाद हासिल करने की कोशिश में जुटे हैं। बॉलीवुड की कई मशहूर हस्तियां भी हर साल गणेश उत्सव बड़ी धूमधाम से मनाती हैं। बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने भी गणपति की पूजा-अर्चना की है। शाहरुख खान ने गणपति की मूर्ति अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर कर इस बात की जानकारी दी है। शाहरुख खान ने तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि ‘मेरे बेटे ने गणपित बप्पा को आवाज दी और वो मेरे घर पर आ गए।’ शाहरुख खान के घर भगवान गणेश की पूजा-अर्चना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद कई लोगों ने इसकी जमकर प्रशंसा की है। हालांकि वहीं कुछ लोग धर्म के नाम पर शाहरुख खान को ट्रोल करने की कोशिश भी कर रहे हैं।

इंस्टाग्राम पर एक यूजर ने लिखा कि ‘आपने भी मूर्ति अपने घर पर लाई। दूसरे धर्मों को सम्मान देना अच्छी बात है। लेकिन आप अपने धर्मों से जुड़े कार्य ही करें। विश्वास करिए भगवान को हासिल करने का सिर्फ एक यही तरीका है।’ हैदर नाम के एक यूजर ने लिखा कि ‘आप पर शर्म आती है।’ एक यूजर ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि ‘शाहरुख एक मुस्लिम हैं। अगर वो सभी धर्मों की इज्जत करते हैं तो यह अच्छी बात है लेकिन उन्हें इस तरह पूजा नहीं करना चाहिए।’ एक यूजर ने लिखा की ‘मुहर्रम में गणेश पूजा..कुछ तो शर्म करो शाहरुख।’

शाहरुख खान को पूजा ना करने की सलाह देने और धर्म तथा आस्था को लेकर ऐसे बयान देने वालों को कई यूजर्स ने इंस्टाग्राम पर जवाब भी दिया है। एक यूजर ने लिखा कि ‘मैं अपने सभी हिंदू और मुस्लिम भाइयों से यह कहना चाहता हूं कि वो एक शिक्षित इंसान हैं और अपने अनुसार अपना फैसला लेना जानते हैं। इसलिए कृप्या कर के उन्हें परेशान करने की कोशिश ना करें उन्हें अपना काम करने दें।’ एक यूजर ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि ‘किसी भी धर्म का दूसरे धर्म से तुलना करना गलत है। जिस दिन हम सभी अलग-अलग धर्मों की तुलना करना छोड़ देंगे और हर धर्म को सम्मान देने लगेंगे दुनिया में शांति आ जाएगी।’ एक यूजर ने लिखा की ‘कुछ तो लोग कहेंगे लोगों का काम है कहना।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App