ताज़ा खबर
 

एक्सिडेंट में मारे गए भाई को देखने भी नहीं गए एक्टर रवि तेजा, अंतिम संस्कार में भी नहीं हुए शामिल

उत्तेज ने बताया कि जो गाड़ी भारत चला रहे थे वह उनकी मां राजलक्ष्मी के नाम पर रजिस्टर थी।
Author हैदराबाद | June 26, 2017 14:15 pm
रघु के अलावा परिवार का कोई भी सदस्य अंतिम संस्कार के लिए नहीं पहुंचा था।

दक्षिण भारतीय फिल्मों के जानेमाने अभिनेता रवि तेजा के भाई भरत का रविवार को सड़क हादसे में देहांत हो गया था। जहां पर एक तरफ फिल्मी जगत के कई दिग्गत कलाकार भरत के अंतिम संस्कार में पहुंचे थे। वहीं रवि तेजा अपने सगे भाई को आखिरी बार देखने के लिए उनके अंतिम संस्कार के लिए नहीं गए। इतना ही नहीं जब भरत का पार्थिव शरीर ओसमानिया जनरल अस्पताल में रखा हुआ था तब भी रवि तेजा उन्हें देखने के लिए अस्पताल नहीं गए। भरत के अंतिम संस्कार में केवल रवि तेजा के छोटे भाई रघु ही पहुंचे थे। रघु के अलावा परिवार का कोई भी सदस्य अंतिम संस्कार के लिए नहीं पहुंचा था।

इस मामले पर जब रवि तेजा के सबसे करीबी अभिनेता उत्तेज से बात की गई तो उन्होंने कहा कि भरत की मौत के बाद से उनका परिवार काफी सदमें में है। सदमें के कारण वे भरत के अंतिम संस्कार को नजरअंदाज कर रहे थे क्योंकि हादसे के बाद भरत का शरीर बहुत ही बुरी हालत में था। उत्तेज ने बताया कि जो गाड़ी भरत चला रहे थे वह उनकी मां राजलक्ष्मी के नाम पर रजिस्टर थी। उन्होंने बताया कि रवि तेजा अपने परिवार से बहुत प्यार करते हैं और अक्सर परिवार के साथ अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट करते रहते हैं इसलिए भरत के अंतिम संस्कार में न जाने के लिए उन्हें कोई दोष न दें। तेजा अपने भाई से बहुत प्यार करते हैं और उन्हें भरत की मौत का काफी गहरा सदमा पहुंचा है।

आपको बता दें कि भरत की मौत तेलंगाना में हैदराबाद के पास शम्साबाद इलाके में कार के एक लॉरी से टकरा जाने के कारण हुआ। ‘धी’ और ‘रेडी’ जैसी फिल्मों में काम कर चुके भरत (46) एक चरित्र अभिनेता थे। राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा पुलिस थाना के इंस्पेक्टर एम महेश ने बताया, “शमशाबाद के पास आउटर रिंग पर बीती रात 11 बजे के आसपास यह दुर्घटना हुई। भरत लाल रंग की स्कोडा में थे, जो एक खड़े ट्रक में पीछे से जा घुसी। गाड़ी की तेज रफ्तार के कारण उनकी मौके पर ही मौत हो गई।”

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.