scorecardresearch

इस पत्रकार का नाम मोहम्मद जुबैर होता तो फांसी पर लटका देते- फ़ोटो शेयर कर भड़क गए बॉलीवुड एक्टर

दिल्ली पुलिस की IFSO (इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस) यूनिट ने सोमवार को AltNews के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर को गिरफ्तार कर लिया है।

इस पत्रकार का नाम मोहम्मद जुबैर होता तो फांसी पर लटका देते- फ़ोटो शेयर कर भड़क गए बॉलीवुड एक्टर
ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक मोहम्मद

आल्ट न्यूज के सह-सम्पादक मोहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस की IFSO ब्रांच ने धार्मिक भावना को आहत करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। जुबैर के खिलाफ आईपीसी की धारा 153-ए (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) और 295-ए (दुर्भावनापूर्ण कृत्य, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाना) के तहत प्राथमिकी दर्ज हुई है। मोहम्मद जुबैर की गिरफ्तार के बाद सोशल मीडिया पर लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। 

अभिनेता कमाल आर. खान (KRK), जुबैर की गिरफ्तारी पर भड़क गये। उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट किए और सरकार पर तीखा हमला बोला है। KRK ने पत्रकार वेद प्रताप वैदिक की हाफिस सईद के साथ की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि “मैं इतना ही जानता हूं कि अगर इस पत्रकार का नाम मोहम्मद जुबैर है तो हाफिज सईद से मिलने के लिए उसे फांसी पर लटका दिया जाएगा। इंडिया मैं नाम की इतनी ही वैल्यू है। आप माने या ना माने। यह आपकी इच्छा है।”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ‘गुलामी किसी को पसंद नहीं, और आजादी कोई नहीं देना चाहता! आजादी के लिए लड़ना पड़ता है! विद्रोह करना पड़ता है! कुर्बानी देनी पड़ती है! देशद्रोही कहलवाना पड़ता है! तब जाकर आजादी नसीब होती है!’ कमाल आर खान ने लिखा कि ‘जब बापू महात्मा गांधी ने सत्याग्रह किया था, तो उनको पता था कि अंग्रेज कार्रवाई करेंगे! और बापू ने फिर भी सत्याग्रह किया था! लाठियां खाई थी! वो उनकी मर्जी थी! RSS वालों ने कहा था, कि ना हमें लड़ना है, ना हमें आज़ादी चाहिए और ना ही हमें लाठियां खानी है! वो उनकी मर्जी थी!’

KRK ने कमाल आर खान पर तंज कसते हुए लिखा कि ‘मुझे मोहम्मद जुबैर से कोई सहानुभूति नहीं है! वह इस बात से अच्छी तरह वाकिफ थे कि अघोषित आपातकाल के दौरान अगर वह सरकार के खिलाफ बोलेंगे तो उन्हें जेल की हवा खानी पड़ेगी। फिर भी उसने बोलना ही चुना इसलिए वह जेल में है। यानी वह अपनी मर्जी से जेल में है।’ अभिनेता प्रकाश राज ने लिखा कि ‘फिर से कायरों की तलाश हो रही है, मैं जुबैर की गिरफ्तारी की निन्दा करता हूं। जागो इंडिया कि इससे पहले हम अपनी आवाज खो दें। क्रोनोलॉजी समझो।’

फिल्ममेकर विनोद कापड़ी ने लिखा कि ‘सात समंदर पार से भी महामानव का ध्यान इसी बात पर अटका होगा कि मोहम्मद जुबैर गिरफ्तार हुआ कि नहीं। हम सब क़िस्मत के कितने धनी हैं ना .. कि हमें ऐसा महामानव मिला है।’ अशोक पंडित ने जुबैर का एक ट्वीट शेयर कर लिखा कि ‘यह ट्वीट यह साबित करने के लिए काफी है कि वह सफेदपोश आतंकवादी है और उसे सलाखों के पीछे होना चाहिए।’

बता दें कि ज़ुबैर की गिरफ्तारी पर, ऑल्ट-न्यूज के सह-संस्थापक प्रतीक सिन्हा ने एक ट्वीट करते हुए लिखा, “जुबैर को आज विशेष सेल, दिल्ली द्वारा 2020 के एक मामले की पूछताछ के लिए बुलाया गया था। हालाँकि, आज शाम लगभग 6.45 बजे हमें बताया गया कि उसे किसी अन्य प्राथमिकी में गिरफ्तार किया गया है, जिसके लिए कोई नोटिस नहीं दिया गया था।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.