ताज़ा खबर
 

तो इस वजह से एक सीन को करने से पहले 18-18 घंटे तक रिहर्सल किया करते थे नवाजुद्दीन सिद्दीकी

बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी लास्ट टाइम अपनी फिल्म 'बाबूमोशाय बंदूकबाज' में नजर आए थे। अपनी हर फिल्म की तरह इस फिल्म में भी नवाजुद्दीन एक अलग और अनोखे अंदाज में नजर आए।
अपने दम पर इंडस्ट्री में मुकाम हासिल करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने एक इंटरव्यू के दौरान उनके पुराने दिनों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कई बातों का जिक्र किया।

बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी लास्ट टाइम अपनी फिल्म ‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ में नजर आए थे। अपनी हर फिल्म की तरह इस फिल्म में भी नवाजुद्दीन एक अलग और अनोखे अंदाज में नजर आए। लोगों ने उनकी एक्टिंग को काफी पसंद भी किया। अपने दम पर इंडस्ट्री में मुकाम हासिल करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी से एक इंटरव्यू के दौरान उनके पुराने दिनों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कई बातों का जिक्र किया। नवाज बताते हैं कि जब वह एनएसडी में अपनी एक्टिंग स्किल पर काम कर रहे थे तो वह एक सीन पर 18-18 घंटे काम करते थे। उनके कई दोस्तों ने काम ना मिलने की वजह से फ्रस्ट्रेट होकर इस लाइन को छोड़ दिया। लेकिन नवाज के अंदर एक्टिंग का जुनून कुछ इस कदर था कि अगर 90 साल की उम्र में भी उन्हें पहला मौका मिलता तो वो इंतजार करते। नवाज ने बताया कि उन्हें पता था कि उनकी शक्ल और पर्सनेलटी उतनी दमदार नहीं थी कि कोई भी आसानी से उन्हें अपनी फिल्म दे दी।

नवाज बताते हैं कि ऐसे में मेरा पास बस एक ही विकल्प था और वो था एक्टिंग का। मैंने अपनी एक्टिंग पर मेहनत करना शुरू किया और इसके बाद धीरे-धीरे मुझे फिल्मों में काम मिलने लगा। नवाज बताते हैं कि जो प्रोड्यूसर कल तक उन्हें अपनी फिल्म में लेना नहीं चाहते थे वो आज उनके घर के चक्कर काटते हैं। लेकिन उनके पास उनसे मिलने का समय नहीं होता।

सलमान के बारे में पूछे जाने पर नवाज कहते हैं कि सलमान के साथ मैंने काफी समय बिताया है और वह एक बेहतरीन इंसान हैं। वो अक्सर मुझे अपने साथ जिम ले जाते और मुझे कुछ टिप्स देते लेकिन मैंने कभी भी उनका कहना नहीं माना।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.