scorecardresearch

अखिलेश भाई इन्हें बाहर करके अच्छा किया – ओपी राजभर और शिवपाल यादव को ‘स्वतंत्र’ करने पर अभिनेता ने ऐसे कसा तंज

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव में सपा की हार के बाद ही ओपी राजभर और अखिलेश यादव के बीच मनमुटाव सामने आ गया था।

अखिलेश भाई इन्हें बाहर करके अच्छा किया – ओपी राजभर और शिवपाल यादव को ‘स्वतंत्र’ करने पर अभिनेता ने ऐसे कसा तंज
सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ ओपी राजभर (फोटो- omprakashrajbhar)

उत्तर प्रदेश की राजनीति में उस वक्त हलचल तेज हो गई, जब समाजवादी पार्टी की तरफ से ओपी राजभर और शिवपाल यादव को ‘स्वतंत्र’ करने के लिए पत्र जारी किया गया। ओपी राजभर और शिवपाल यादव ने सपा के इस फैसले को स्वीकार कर लिया है। अब यूपी में हुए इस प्रकरण पर अभिनेता कमाल आर खान ने तंज कसा है! 

ओपी राजभर को लेकर KRK ने किया ट्वीट

अभिनेता कमाल आर खान ने ट्वीट कर लिखा कि “वास्तव में ओपी राजभर और शिवपाल यादव जैसे नेताओं को सत्ता में रहने की आदत है। लोगों को ऐसे लोगों को वोट नहीं देना चाहिए। भाई साहब अखिलेश यादव आपने उन्हें पार्टी से निकाल कर सही काम किया है।” KRK के इस ट्वीट पर लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

लोगों की प्रतिक्रियाएं: ललित कुमार नाम के यूजर ने लिखा कि ‘वैसे देखा जाए तो सपा राजनीतिक कम और परिवारवादी पार्टी ज्यादा नजर आती है इसलिए वह परिवार तक ही सिमट कर रह चुकी है। जनता का सपा से और सपा का जनता से कोई मतलब नहीं है।अखिलेश सही दिशा में पार्टी का नेतृत्व कर रहे हैं। जयंत, पल्लवी, रागिनी सोनकर, अब्दुल्ला आजम वह कैडर को सही तरीके से विभाजित कर रहे हैं।’

प्रियांश नाम के यूजर ने लिखा कि ‘राजनीति के बारे में क्या मालूम है? आप राजनीतिक प्रवक्ता से बेहतर नहीं हैं जो पूरे दिन बकवास करते हैं क्योंकि वे लोगों को बांटने में सबसे आगे हैं।’ अनिकेत नाम के यूजर ने लिखा कि ‘हर चीज का ठेका तो सिर्फ कमाल भाई ने उठा रखा है!’ वीके नाम के यूजर ने लिखा कि ‘टाइम पास करने के लिए लोगों को आपका वीडियो देखना ही पड़ता है।’

यश नाम के यूजर ने लिखा कि ‘मैं हमेशा कहता हूं कि खुद को महत्व मत दो क्योंकि लोग आपका वीडियो सिर्फ आप पर हंसने के लिए देखते हैं, आपकी अभद्र भाषा पर हंसते है और कुछ नहीं। आपको यह स्वीकार करना होगा कि आप हमारे लिए एक एंटरटेनर हैं। तो, आराम करो और सो जाओ।’

बता दें कि उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव में सपा की हार के बाद ही ओपी राजभर और अखिलेश यादव के बीच मनमुटाव सामने आ गया था। वहीं यशवंत सिन्हा का समर्थन करने पर शिवपाल यादव, अखिलेश यादव (सपा) से नाराज हो गये थे। अब सपा इन दोनों नेताओं को पत्र लिखकर ‘जहां चाहे, जा सकते हैं’ कहकर स्वतंत्र कर दिया है!

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट