scorecardresearch

खुद दुबई में हो और यहां के मुसलमानों को भड़का रहे हो- बॉलीवुड एक्टर ने की काली पट्टी पहनकर नमाज पढ़ने की गुजारिश तो मिले ऐसे जवाब

बॉलीवुड अभिनेता कमाल आर. खान ने ट्विटर पर मुसलमानों से अत्याचार के विरोध में काली पट्टी बांधकर ईद की नमाज पढ़ने की अपील की तो लोगों ने कहा कि दुबई में क्यों, वहां मोदी और योगी थोड़ी हैं।

Yogi Adityanath
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (सोर्स- पीटीआई)

पिछले दिनों हुई शोभायात्रा पर पत्थरबाजी के बाद फैली हिंसा के आरोपियों पर बुलडोजर कार्रवाई खूब विवादों में रही। आरोप लगाया गया कि एकतरफा कार्रवाई हो रही है, मुसलमानों को जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। इस पर बॉलीवुड अभिनेता कमाल आर. खान ने ट्वीट कर मुसलमानों से ईद के दिन विरोध करने की अपील की तो लोग भड़क गये।

KRK ने ट्विटर पर लिखा कि “आज देश में मुसलमानों के साथ जो अत्याचार हो रहा है, उसके खिलाफ अपनी नाराजगी जरूर दर्ज कराएं। काली पट्टी बांध कर ईद की नमाज अदा करें। एक और ट्वीट करते हुए KRK ने लिखा कि लोकतंत्र, हर भारतीय को विरोध करने का अधिकार देता है अगर उसे कुछ पसंद नहीं है। शांतिपूर्ण विरोध कोई अपराध नहीं है।”

अनिल नाम के यूजर ने लिखा कि ‘काहे उनको भड़का रहे हो? त्योहार को त्योहार रहने दो, इसमें राजनीति ना डालो। मुस्लिम युवाओं ने ठुकरा दिया है यह काली पट्टी का प्रोग्राम।’ भुवनेश नाम के यूजर ने लिखा कि ‘इनको कोई समझाओ यार।’ हार्दिक नाम के यूजर ने लिखा कि ‘खुद तो दुबई में जाकर बैठे हो और यहां के मुसलमानों को भड़का रहे हो?’

राकेश नाम के यूजर ने लिखा कि ‘अच्छा तो इसीलिए तुम देश छोड़कर चले गये? आज पता चला।’ सचिन नाम के यूजर ने लिखा कि ‘भड़काने वाली बातें मत करो, यहां अमन-शांति कायम है।’ शिव नाम के यूजर ने लिखा कि ‘दुबई में भी मुसलमानों पर अत्याचार हो रहा है क्या? वहां तो मोदी और योगी नहीं हैं।’

वेंकटेश नाम के यूजर ने लिखा कि ‘कैसा अत्याचार? क्या उन्हें राशन नहीं मिल रहा है? लड़कियों को उठा के शादी करवाके कन्वर्ट किया जा रहा है? रालिव, गालिव, चलिव के नारे लग रहे हैं? क्या उन्हे रिफ्यूजी की तरह रहना पड़ा रहा है? क्या शिक्षा नहीं मिल रही है?’ एक यूजर ने लिखा कि ‘कौन से देश में भाई..? इंडिया, पाकिस्तान, बांग्लादेश, सऊदी? पहले देश तो चुन लो अपना।’

शुभम नाम के यूजर ने लिखा कि ‘केआरके तुम एक फिल्म समीक्षक हो, ये अलग बात है कि कोई भी आपको गंभीरता से नहीं लेता है। दुबई में रहकर इंडिया में स्ट्राइक करवाने की कोशिश मत करो।’ एक यूजर ने लिखा कि ‘त्योहार की खुशी में मातम मनाने की सीख देने वाले घटिया लोगों से सावधान रहें, किसी भी बात पर अपना विरोध दर्ज करवाने के लिए और भी दिन आएंगे।’

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.