ताज़ा खबर
 

गोविंदा बोले- बॉलीवुड के किसी कैंप में नहीं रहना गलत कदम था, पैसों की तंगी से बड़ी दिक्‍कत हुई, लोग बुरा बर्ताव करने लगे

मैं कभी भी किसी कैंप का हिस्सा नहीं रहा लेकिन मुझे लगता है कि यह एक गलत कदम था। मुझे ऐसा करना चाहिए था। यह आपके करियर को प्रभावित करता है। यह एक बड़े परिवार की तरह होता है।

Author नई दिल्ली | March 3, 2017 12:30 PM
अपनी इस अगली फिल्म में वह पांच नए चेहरों को ब्रेक देना चाहते हैं।

90 के दशक में अपनी सुपरहिट फिल्मों का डंका पीटने वाला बॉलीवुड स्टार गोविंदा ने माना है कि बॉलीवुड के किसी भी कैंप का हिस्सा नहीं रहना उनकी गलती थी। गोविंदा ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में कई बड़े कैंप हैं और वह महसूस करते हैं कि किसी भी कैंप का हिस्सा नहीं होना एक गलत कदम था। मालूम हो कि 53 वर्षीय अभिनेता लंबे वक्त तक बॉलीवुड पर राज करते रहे लेकिन सन 2000 में पॉलिटिक्स से जुड़ने के बाद उनका एक्टिंग करियर ठंड़ा पड़ने लगा। हालांकि वह पार्टनर, हैप्पी एंडिंग और किल दिल जैसी फिल्मों से वापसी करते रहे लेकिन ये फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कोई खास खेल नहीं दिखा सकीं। गोविंदा ने कहा कि उन्हें इस बात का असहास बहुत बाद में हुआ कि किसी एक विशेष कैंप का हिस्सा बने रहने से एक्टर के करियर को ग्रोथ मिलती रहती है।

समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में गोविंदा ने कहा- बॉलीवुड में कई विशाल कैंप हैं। मैं कभी भी किसी कैंप का हिस्सा नहीं रहा लेकिन मुझे लगता है कि यह एक गलत कदम था। मुझे ऐसा करना चाहिए था। यह आपके करियर को प्रभावित करता है। यह एक बड़े परिवार की तरह होता है। उन्होंने कहा- उस एक परिवार में यदि आप सौहार्द स्थापित करें और अच्छे रिश्ते बनाएं तो यह काम कर जाता है। यदि आप इसका हिस्सा हैं तो आपको फायदा मिलता है, आप बहुत अच्छा करते हैं। गोविंदा ने कहा कि उनके करियर के बुरे दौर में लोगों ने उनके सफर को और मुश्किल बना दिया और तब उन्होंने सुपरस्टार अमिताभ बच्चन की ओर देखा जिन्होंने उनकी आर्थिक दिक्कतों को दूर किया। गोविंदा ने कहा- मैंने बहुत स्ट्रगल किया है, मैं आपको बता दूं, यह आसान नहीं है, जब मैं स्ट्रगल कर रहा था तब लोगों ने मेरा रास्ता आसान नहीं बनाया। मैंने देखा और सुना है कि बच्चन सर के साथ क्या हुआ, लेकिन मुझे नहीं मालूम था कि यह मेरे साथ भी हो सकता है। वह यह कर सके और इससे बाहर आ सके यह बहुत ही प्रेरणादायक था।

मनोरंजन जगत की खबरों के लिए क्लिक करें

गोविंदा ने कहा कि उनका आर्थिक दिक्कतों से बाहर आना बहुत तकलीफदेह था और उन्हें अपनी फिल्में तक करने में बहुत दिक्कत हुई। यह बहुत थकाने वाला था। यह बहुत मुश्किल था, लोग बदतमीजी करते हैं, वह आपके लिए ठीक से फिल्में तक नहीं लिखते, कुछ होते हैं जो बार-बार पैसे की मांग करते रहते हैं। वह कहते हैं कि उन्हें टीवी के लिखने का ज्यादा पैसा मिलता है। गोविंदा ने कहा कि इंडस्ट्री हमेशा पैसे से सरोकार रखने वाली थी लेकिन अब यह बहुत महंगी हो गई है। किसी एक्टर के लिए फिल्म बनाना और उसे रिलीज करना बहुत मुश्किल हो गया है। मालूम हो कि गोविंदा की फिल्म आ गया हीरो की शूटिंग पूरी हो चुकी है और इसका ट्रेलर रिलीज किया जा चुका है। फिल्म 17 मार्च को सिनेमाघरों में रिलीज होगी। फिल्म का प्रोडक्शन और कहानी गोविंदा ने खुद लिखी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App