scorecardresearch

प्रेम में पगी कहानियों के खूबसूरत गुलदस्ते से सजी उम्दा शृंखला

अमेजान प्राइम पर इस सप्ताह के प्रारम्भ में प्रदर्शित वेब सीरीज ‘माडर्न लव मुंबई।’ प्रबुद्ध दर्शक वर्ग के बीच, नवोदित फिल्मकारों की तरफ से एक सर्वथा अनूठे और सुखद प्रयोग बतौर चर्चा में है।

राजीव सक्सेना

सिनेमा के बड़े पर्दे ने सवा सौ साल में परिवर्तन के इतने दौर नहीं देखे होंगे, जितने अपनी बाल्यावस्था में ही ओटीटी प्लेटफार्म की वेब शृंखलाओं ने देख लिए। तीन-चार बरस में ही अपराध की दुनिया से जुड़े तकरीबन हर एक पहलू को अलग-अलग कोण से रेखांकित करने के अलावा गालियों से पनपती हुई अभद्र संस्कृति सरीखी भारतीय जनमानस की कमजोर नस को लंबे समय तक पकड़े रहने के बाद मध्यवर्ग की पारिवारिक उलझनों को भी कथानक में पिरोया और अब एक बार फिर महानगर के जीवन की भागमभाग से कहानियां खोज निकालने का नया सिलसिला शुरू किया गया है।

अमेजान प्राइम पर इस सप्ताह के प्रारम्भ में प्रदर्शित वेब सीरीज ‘माडर्न लव मुंबई।’ प्रबुद्ध दर्शक वर्ग के बीच, नवोदित फिल्मकारों की तरफ से एक सर्वथा अनूठे और सुखद प्रयोग बतौर चर्चा में है। सोशल मीडिया पर छह दिन के भीतर जितना इस शृंखला को नोटिस किया गया, उतना शायद पहले किसी और को नहीं किया गया।

प्रीतिश नंदी कम्युनिकेशन्स बैनर पर निर्मित वेब सीरीज ‘मॉडर्न लव मुंबई’ की खासियत इसके छह एपिसोड, छह कहानियां और छह निर्देशक हैं। कहानियों में भी एक हद तक नयापन दिखाई दिया। रातरानी, बाई, एक कटिंग चाय, माय ब्यूटीफुल रिंकल्स, मुंबई ड्रेगन और आई लव ठाणे शीर्षक से इन छह कहानियों में महानगर में भागती-दौड़ती जिंदगी के बीच पनपते रोमांस को सामाजिक, पारिवारिक उलझनों के ताने-बाने के साथ दिलचस्प तरीके से पेश करने की कोशिश की गई है।

‘बाई’ शीर्षक की कहानी, एक मुस्लिम परिवार के उपेक्षित बेटे के किरदार को लेकर रची गई है, जो बचपन से ही समलैंगिक सम्बन्ध के साथ एक नई राह पकड़कर चल रहा है। पारम्परिक परिवार के तमाम बड़ी उम्र के सदस्यों के बीच खुद को अकेला पाने वाले इस लड़के को बुजुर्ग सदस्य बाई से स्नेह मिलता है, जो उसके जीवन में एक सुकून साबित होता है लेकिन उनके नहीं रहने से वह फिर खुद को अकेला पाता है।

‘मुंबई ड्रेगन’.. कहानी एक अहिंदीभाषी महिला और उसके बेटे के बीच एक अजीब से मानसिक द्वन्द्व को बयां करती है। एक अलग संस्कृति में पला-बढ़ा नायक, एक दांतों का इलाज करवाते हुए डेंटिस्ट के साथ प्रेम में डूबकर, मां की ममता और गायन के अपने जूनून तक को भुला बैठता है। विधवा मां को भावुकता का मरहम लगाने वाले एक सिख किरदार के जरिये कहानी को सुखद अंजाम देने की सुंदर पेशकश काबिल ए तारीफ है।
‘आई लव ठाणे’..कहानी, व्यक्ति से अधिक स्थान के साथ लगाव और प्रेम को दिखाती है। नई पीढ़ी के युवाओं के बीच प्रेम को लेकर बने असमंजस और मानसिक संघर्ष की एक सुकून भरी परिणति इस कहानी को चरम तक पहुंचाती है।

‘रात रानी’, इस वेब सीरीज की सबसे ज्यादा आकर्षित करने वाली कहानी है। कश्मीर से मुंबई आकर अपना अस्तित्व तलाश करने वाले लड़के और लड़की को एक ही गगनचुम्बी इमारत के तले काम करते हुए कब इश्क हो गया और शादी के बंधन तक जा पहुंचे, उन्हें खुद पता न चला। एक मोड़ पर पति से बिछड़ गई नायिका ने महानगर के ऊंचे फ्लाइओवर को सायकल के जरिये पार कर लड़की होने के कथित खामियाजे को सिरे से नकार कर किसी हाल में मर्द से पीछे नहीं होने की सच्चाई से ढंकने में कसर नहीं छोड़ी।

‘माय ब्यूटीफुल रिंकल्स’ शीर्षक की कहानी, महानगर में एकाकी जीवन जी रही बुजुर्ग लेकिन आधुनिक महिला और एक जवान लड़के के परस्पर आकर्षण पर आधारित है। ‘एक कटिंग चाय’, मुंबई में जीवन की आपाधापी में अपने वजूद के लिए संघर्ष करती एक महिला और महत्त्वाकांक्षी पुरुष की कहानी है। कहानीकार बनने का जूनून पाले हुए महिला, एक पुस्तक के विमोचन समारोह में एक चाय के बहाने अजनबी पुरुष से मिलकर प्रभावित होती है। शादी के बाद परिवार और बच्चों को पालते हुए एक अदद किताब लिखने और छपने के उसके सपने कहीं खोते नजर आते हैं।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट