ताज़ा खबर
 

उत्तराखंड के पौढ़ी में रहता है योगी आदित्यनाथ का परिवार, यूपी का सीएम चुने जाने पर पिता बोले- बचपन से ही थी सेवा करने की लगन

उत्तराखंड में योगी आदित्यनाथ के गांव में जश्न का माहौल

योगी आदित्यनाथ का परिवार उत्तराखंड के पौढ़ी जिले में रहता है (Source-ANI)

योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने पर उत्तराखंड के पौढ़ी स्थित पंचुर गांव में जश्न का माहौल है। योगी आदित्यनाथ का परिवार सालों से यहीं रहता आया है। पंचुर गांव में लोग टीवी और मोबाइल से चिपके हुए हैं। और उनके शपथ ग्रहण से जुड़ी सारी जानकारियां इकट्ठा कर रहे हैं। योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई को बताया कि योगी आदित्यनाथ का असली नाम अजय सिंह बिष्ट है और वो बचपन से ही लोगों की सेवा करना चाहता था, आज (19 मार्च) जब वो उत्तर प्रदेश का सीएम बनने जा रहा है तो हमलोग बेहद खुश हैं। आनंद सिंह बिष्ट बताते हैं कि, ‘योगी बचपन से ही प्रतिभाशाली थे और पढ़ाई में होशियार थे, 1993 में उन्होंने जनता की सेवा करने की सोची और गोरखपुर चले गए. शुरू में हमें लगा कि वह वहां नौकरी करने गए हैं।

योगी आदित्यनाथ के गांव में सुबह से ही लोग उनके पिता को बधाई दे रहे हैं। योगी आदित्यनाथ की बहन ने बताया कि हमलोग कल से ही लगातार टीवी देख रहे हैं, जब उनके सीएम बनने की खबर पक्की हो गई तो हमलोगों ने गांव में पटाखे चलाये और मिठाइयां बांटी। योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट योगी आदित्यनाथ के कट्टर होने के दावे को खारिज करते हैं, और कहते हैं वे सभी को साथ लेकर चलेंगे।

आपको बता दें कि यूपी चुनाव के दौरान योगी आदित्यनाथ चुनाव प्रचार के प्रमुख चेहरे थे। चुनाव प्रचार के लिए आलाकमान ने इनकों अलग से हेलिकॉप्टर मुहैया कराया था। इस चुनाव में बीजेपी ने 403 वाली यूपी विधानसभा में अकेले दम पर 312 सीटें जीतीं थी। सहयोगियों के साथ बीजेपी का ये आंकड़ा 324 है।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा- "यह ऐतिहासिक फैसला देश की राजनीति को एक नई दिशा में ले जाएगा"

Next Stories
1 योगी आदित्यनाथ पर बीजेपी नेताओं की राय- 2019 के पहले का सबसे बड़ा दांव, चुनाव से पहले अमित शाह के दिमाग में था यह नाम, बहुमत हिंदुत्व के लिए भी है
2 साधु ने की थी यूपी के नए डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के लिए भविष्यवाणी-लाल बत्ती कभी नहीं छोड़ेगी साथ
3 योगी आदित्यनाथ पर मर्डर के आरोप में दफा 302 सहित कई धाराओं में दर्ज हैं 5 बड़े मुकदमे, दोषी साबित होने पर सजा-ए-मौत भी संभव
Coronavirus LIVE:
X