ताज़ा खबर
 

प्रायश्चित के लिए चुनाव से पीछे हटे भाजपा: योगेंद्र यादव

नगर निगम पर पिछले दस सालों से शासन कर रही भाजपा के लिए असल प्रायश्चित तब होगा जब वह अपने सभी पार्षदों के टिकट काटने के बजाए निगम चुनाव से पूरी तरह पीछे हट जाए।

Author नई दिल्ली | April 11, 2017 3:03 AM
योगेंद्र यादव

स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा है कि नगर निगम पर पिछले दस सालों से शासन कर रही भाजपा के लिए असल प्रायश्चित तब होगा जब वह अपने सभी पार्षदों के टिकट काटने के बजाए निगम चुनाव से पूरी तरह पीछे हट जाए। यादव ने सोमवार को उत्तरी नगर निगम क्षेत्र में रोड शो कर चुनाव प्रचार किया।  यादव ने भाजपा शासित निगमों के दस सालों के शोषण पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर भाजपा सच में प्रायश्चित करना चाहती है तो इन चुनावों से पार्टी को पूरी तरह से पीछे हट जाना चाहिए। दस साल के कुकर्मों का दोष पार्षदों पर मढ़ देने मात्र से भला पार्टी कैसे खुद को दोषमुक्त मान सकती है। अपने रोड शो के दौरान यादव ने कहा, ‘भाजपा दिल्ली की जनता को गुमराह करना चाह रही है। तभी तो एमसीडी में दस साल के अपने कुशासन के बाद ‘नए चेहरे, नई ऊर्जा, नई उड़ान…’ जैसे नारे लगा रही है।

भाजपा को समझ लेना चाहिए कि चेहरे और फोटो बदल कर वह दिल्लीवासियों की आंखों में धूल नही झोंक सकती। आज सबसे बड़ा सवाल है कि देश की राजधानी दिल्ली साफ क्यों नहीं है? निगम स्कूलों की हालत खराब क्यों है? दिल्ली की झुग्गी-झोपड़ियों और अनधिकृत कालोनी क्षेत्र में न्यूनतम नागरिक सुविधाएं क्यों नहीं है? दिल्ली साल दर साल डेंगू व चिकनगुनिया का शिकार होने को अभिशप्त क्यों है?’ योगेंद्र यादव ने अपने चुनाव अभियान में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वराज इंडिया ‘साफ दिल, साफ दिल्ली’ का संकल्प लेकर जनता के बीच जा रही है। पार्टी के ‘सीटी बजाओ’ अभियान के तहत यादव ने जनता से अपील की कि ‘सीटी’ बजा कर भाजपा नेताओं से हर गली-नुक्कड़ में सवाल पूछें और कहें कि दस साल के अपने कार्यकलाप के लिए भाजपा लोगों से माफी मांगे।

कांग्रेस की बागी रजिया सुल्ताना ‘आप’ में शामिल

कांग्रेस की बागी नेता और पूर्व डिप्टी मेयर रजिया सुल्ताना ने सोमवार को पार्टी छोड़ आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया। आम आदमी पार्टी के मुताबिक, सुल्ताना अपने कई समर्थकों के साथ आप में शामिल हुर्इं।  आम आदमी पार्टी के मुताबिक सोमवार को रजिया सुल्ताना के साथ-साथ दिल्ली में लंबे समय से राजनीति करते आए एआइएमआइएम के नेता शोएब खान ने भी अपने समर्थकों के साथ आप का दामन थामा। शोएब खान एआइएमआइएम के जिला अध्यक्ष थे। वहीं रजिया सुल्ताना कांग्रेस से तीन बार पार्षद रह चुकी हैं और डिप्टी मेयर होने के साथ-साथ कांग्रेस की जिला अध्यक्ष और महासचिव पदों पर काम कर चुकी हैं। आप के मुताबिक, ये नेता अपनी पार्टियों के लिए सालों से जमीन पर काम कर रहे थे लेकिन अब अपनी पार्टियों की भ्रष्टाचार आधारित नीतियों की वजह से निराश होकर आप से जुड़ गए हैं।

 

दिल्ली: उप-राज्यपाल अनिल बैजल का आदेश- "आम आदमी पार्टी से विज्ञापनों के लिए 97 करोड़ रुपये वसूले जाएं"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App