ताज़ा खबर
 

NRC का विरोध: अमित शाह का राहुल पर वार- घुसपैठिए जैसे उनके मौसेरे भाई लगते हों

पीएम मोदी की तारीफ करते हुए वह बोले, दुनिया के किसी भी देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसी लोकप्रियता वाला कोई नेता नहीं है।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार (11 जनवरी) को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जुबानी वार किया। नई दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में उन्होंने कहा कि राहुल और उनकी पार्टी ने नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (एनआरसी) का विरोध ऐसे किया, जैसे घुसपैठिए उनके मौसेरे भाई लगते हों। रामलीला मैदान में आयोजित दो दिवसीय कार्यक्रम में वह बोले, “असम में सर्बानंद सोनोवाल की सरकार बनी। हमने उसके बाद नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (एनआरसी) शुरू किया, जो कि घुसपैठियों को चिह्नित करने की व्यवस्था है। सिर्फ असम में 40 लाख प्रथम दृष्टया घुसपैठिए चिह्नित किए गए। अच्छा लगा, जब अखबारों में आंकड़ा आया। मैं अभिनंदन करने के भाव से राज्यसभा पहुंचा, पर राहुल बाबा एंड कंपनी ने इस पर हाय-तौबा मचाई। वे लोग बोले- ये लोग कहां जाएंगे, कहां रहेंगे और क्या खाएंगे? जैसे वे (घुसपैठिए) उनके मौसेरे भाई लगते हों।”

महागठबंधन पर भी बोला बड़ा हमलाः शाह ने कहा, “महागठबंधन महज एक ढकोसला है। उसके पास न तो नेता है और न ही नीति है। एक दूसरे का मुंह न देखने वाले आज हार के डर से एक साथ आ गए हैं। वे जानते हैं कि अकेले नरेंद्र मोदी को हराना मुमकिन नहीं है।”

यूपी में 74 सीटें लाएगी बीजेपीः आगामी चुनाव को लेकर वह बोले, “2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है। दो विचारधाराएं आमने-सामने हैं। यह वैचारिक युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है, इसीलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है।” शाह ने इसी के साथ दावा किया कि चुनाव में उत्तर प्रदेश में 73 से 74 सीटें बीजेपी की होंगी।

देखें अधिवेशन के उद्घाटन के बाद और क्या बोले बीजेपी अध्यक्ष-

राम मंदिर पर यह आया बयानः भाषण के दौरान शाह ने अयोध्या विवाद को लेकर भी बयान दिया। मंच से उन्होंने कहा, “बीजेपी जल्द से जल्द राम मंदिर का निर्माण चाहती है। हम कोशिशों में जुटे हैं कि सुप्रीम कोर्ट में यह मामला निष्कर्ष पर पहुंचे, लेकिन कांग्रेस में बाधा डाल रही है।”

‘दुनिया में मोदी जैसा दूसरा कोई नेता नहीं’: पीएम मोदी की तारीफ करते हुए वह बोले, 2014 में छह राज्यों में बीजेपी की सरकार थीं, जबकि 2019 में यह 16 राज्यों में हो गई। पांच साल के अंदर बीजेपी का गौरव तेजी से बढ़ा है। उनके मुताबिक, दुनिया के किसी भी देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसी लोकप्रियता वाला कोई नेता नहीं है।शाह के भाषण से पहले पीएम मोदी, शाह और पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने कार्यक्रमस्थल पर अधिवेशन का उद्घाटन किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App