ताज़ा खबर
 

VIDEO: इंटरव्‍यू में एंकर ने कही ऐसी बात कि अखिलेश बोले- बीजेपी की भाषा मत बोलिए

यूपी शिखर सम्मेलन में आए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कार्यक्रम की एंकर के एक बयान पर एंकर को चुप करा दिया। एंकर के सवाल पर अखिलेश यादव ने जवाब देते हुए कहा कि बीजेपी की भाषा मत बोलिए।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव फोटो सोर्सः जनसत्ता

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले अखिलेश यादव विरोधियों पर निशाना साधने में कोई कसर छोड़ने के मूड में नजर नहीं आ रहे हैं। एबीपी न्यूज के कार्यक्रम यूपी शिखर सम्मेलन में आए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कार्यक्रम की एंकर के एक बयान पर एंकर को चुप करा दिया।
दरअसल एंकर ने कहा कि , आपको याद है अखिलेश जी जब नोटबंदी हुई थी तो आप दिल्ली में थे और चाय पर आपने मोदी जी से चर्चा की थी। इसके बाद अखिलेश यादव एंकर को बीच में रोककर कहते हैं कि उनकी (मोदी) की चाय इतनी बकवास चाय है कि मैं तो नहीं पी सकता। और मैं आपकी जानकारी के लिए बता दूं, मैं लखनऊ में था मैं वहां नहीं था नोटबंदी के दिन।

इसपर रुबिका लियाकत ने कहा कि मुझे मायावती का बयान याद है तभी आपको बबुआ कहा था उन्होंने, इसपर अखिलेश यादव कहते हैं कि ऐसी बातों को छोड़ दीजिए, भूल जाइए इन बातों को वो मुझे क्या कहती हैं , मैं उन्हें क्या कहता हूं? ये भूल जाइए। आप बीजेपी की भाषा मत बोलिए। बबुआ बोलने में क्या खराबी है? अगर हम बीजेपी के नेताओं को कुछ बोल दें तो ?


इसके बाद अखिलेश यादव ने एंकर से कहा कि आपने गलत सवाल किया आपको पूछना चाहिए था कि बीजेपी के नेताओं मुख्यमंत्री आवास को गंगाजल से क्यों धुलवाया? अखिलेश यादव इस दौरान पूरे आवेश में नजर आए और उन्होंने कहा कि मैं पूछता हूं कि बीजेपी के लोगों ने मेरे घर से टोंटी क्यों निकलवाईं? मैंने भी तय किया है कि उन्हीं अधिकारियों से चिलम निकवानी है वहां से।

बता दें  कि कयास लगाए जा रहे हैं कि अखिलेश यादव मुलायम सिंह यादव के आजमगढ़ से ना लड़ने के बाद खुद वहां से चुनाव लड़ने वाले हैं। लोकसभा चुनाव 2019 का ऐलान चुनाव आयोग ने कर दिया है।  इस बार लोकसभा चुनाव कुल सात चरणों में होंगे। पहला चरण 11 अप्रैल को है जबिक 19 मई को अंतिम चरण का मतदान संपन्न होगा। 23 मई को देश को नई सरकार मिलेगी यानी 23 मई को मतगणना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App