ताज़ा खबर
 

योगी सरकार के मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने खुद को बताया ‘हनुमान का वंशज’

राजभर का दावा है कि सपा और बसपा ने ओबीसी और दलित समुदाय के लोगों को यूपी में अपने कार्यकाल के दौरान लूटा। आगे कहा- जिन्होंने लोगों को लूटने के लिए गठबंधन किया है, वे गंगा में डूब जाएंगे।

यूपी के कबीना मंत्री और सुहेलदेव बहुजन समाज पार्टी के मुखिया ओमप्रकाश राजभर। (एक्सप्रेस फोटोः विशाल श्रीवास्तव)

यूपी के कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर बीते कुछ वक्त से योगी आदित्यनाथ की अगुआई वाली बीजेपी सरकार पर तीखे हमले करते रहे हैं। हालांकि, रविवार को उनके रुख में बिलकुल यूटर्न देखने को मिला। एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक, राजभर ने कहा कि सपा और बसपा ने इसलिए गठबंधन कर लिया है क्योंकि वह ‘भगवान हनुमान के वशंज’ हैं और बीजेपी के साथ हैं। राजभर का दावा है कि सपा और बसपा ने ओबीसी और दलित समुदाय के लोगों को यूपी में अपने कार्यकाल के दौरान लूटा। हमलावर रुख अपनाए राजभर ने कांग्रेस को भी निशाने पर लिया।

एचटी की रिपोर्ट के मुताबिक, राजभर वाराणसी में अपनी पार्टी द्वारा आयोजित ‘अति पिछड़ा अति दलित अधिकार रैली’ को संबोधित कर रहे थे। राजभर के मुताबिक, सपा और बसपा, दोनों ही पार्टियों को पता था कि वे अकेले नहीं जीत सकतीं।

राजभर ने खुद की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘जब से इस भगवान हनुमान के वंशज ने भारतीय जनता पार्टी का समर्थन किया है, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी बिलकुल खामोश हैं। दोनों ही पार्टियों को पता है कि वे अकेले चुनाव नहीं लड़ सकतीं। इस वजह से सपा और बसपा ने गठबंधन किया है।’

UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बारे में ये बातें जानते हैं?

राजभर के मुताबिक, उन्होंने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और सीएम योगी आदित्यनाथ को विस्तार से बताया है कि कैसे ओबीसी समुदाय के लोग कुछ संसदीय सीटों पर 38 फीसदी जबकि कुछ अन्य पर 36 फीसदी भागेदारी रखते हैं। इसका मतलब यह है कि 36 फीसदी ओबीसी समुदाय के वोट के साथ अन्य जातियों के 20 फीसदी वोट एनडीए के खाते में जाएंगे।

उन्होंने दावा किया कि जिन्होंने लोगों को लूटने के लिए गठबंधन किया है, वे गंगा में डूब जाएंगे। मंत्री ने बताया कि वह 26 फरवरी को बीजेपी अध्यक्ष शाह के साथ मीटिंग करने के लिए दिल्ली जाएंगे। इसमें 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण को तीन सब कैटिगरी ओबीसी, पिछड़ा और अति पिछड़ा में बांटने पर चर्चा होगी।

Next Stories
1 स्‍मृति ईरानी का तंज- गरीब का बेटा प्रधानमंत्री बन गया, नामदारों को सहन नहीं होता
2 Election 2019 Updates: सिंधिया ने कहा, कांग्रेस की सरकार बनी तो पारित होगा महिला आरक्षण बिल
3 सूचना है EVM, 10 रुपये की RTI लगाकर चुनाव आयोग से मांग सकते हैं: सीआईसी
ये पढ़ा क्या?
X