ताज़ा खबर
 

UP चुनाव 2017: मायावती ने कहा- सत्ता में वापिस लौटे तो नहीं बनाएंगे और मूर्तियां

मुजफ्फरनगर में रैली के दौरान मायावती ने कहा है कि अगर वह दोबारा सत्ता में आई तो मूर्तियोंका निर्माण नहीं करेंगी।

बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती। PTI Photo by Nand Kumar

मुजफ्फरनगर में रैली के दौरान मायावती ने कहा है कि अगर वह दोबारा सत्ता में आई तो मूर्तियोंका निर्माण नहीं करेंगी। मायावती ने कहा कि “अब आने वाले कार्यकाल में मूर्ति स्‍थापित नहीं की जाएगी, क्‍योंकि यह काम पहले ही पूरा कर लिया गया है। इस बार मेरी पूरी ताकत हर स्तर पर प्रदेश की जनता को सुरक्षित रखने और विकास में लगेगी। मरी सरकार गरीबों को लैपटॉप-मोबाइल की जगह आर्थिक मदद देंगे।” वहीं मायावती ने जमकर तमाम विपक्षी दलों पर निशाना साधा। उन्होंने मुलायम सिंह यादव के खिलाफ बोलते हुए कहा कि मुलायम ने पुत्र मोह में शिवपाल को अपमानित किया है।

उन्होंने आगे कहा “सपा के दोनों खेमे एक दूसरे को हराएंगे। ऐसी स्थिति में अल्‍पसंख्‍यक समाज के लोग अगर सपा के उम्‍मीदवारों को वोट देते हैं तो नुकसान होगा और बीजेपी को फायदा होगा। ऐसे में अल्‍पसंख्‍यक समाज को बीएसपी को वोट करना चाहिए।” वहीं मायावती ने बीजेपी की नोटबंदी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने सिर्फ हवा-हवाई वादे किए हैं। उन्होंने आगे कहा कि अगर राज्य में बीजेपी या सपा सत्ता में आती है, तो यूपी नरक बन जाएगा। उन्होंने कहा कि दंगे अचानक नहीं होते, बल्कि प्लैन किए जाते हैं और इन दंगों से आम आदमी का नुकसान होता है।

मायावती ने 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगे, दादरी कांड का हवाला देते हुए सपा सरकार पर खराब कानून व्यवस्था को लेकर निशाना साधा। समाजवादी पार्टी पर तीखा प्रहार करते हुए बसपा प्रमुख मायावती ने आज आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ पार्टी ने उत्तरप्रदेश में गुंडाराज कायम कर दिया है और महिलाओं के खिलाफ बेइंतहा अत्याचार किए जा रहे हैं। एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा, ‘‘समाजवादी पार्टी ने राज्य ने कोई विकास नहीं किया है। बहुत से अधिकारियों का तबादला कर दिया गया है और राज्य में अपराध, गुंडागर्दी और भ्रष्टाचार का बोलबाला है।

भाजपा पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि केन्द्र में पार्टी के तीन साल के शासन में कोई विकास नहीं हुआ। कांग्रेस को भी आड़े हाथ लेते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में अपने 27 वर्ष के शासन और केन्द्र में 54 वर्ष के शासन के दौरान कुछ नहीं किया। मायावती ने आरोप लगाया, ‘‘सपा और भाजपा आरक्षण समाप्त करने की योजना बना रही हैं। मुजफ्फरनगर में दंगे सपा और भाजपा की मिलीभगत से हुए।’’

UP चुनाव ग्राउंड रिपोर्ट नौगांवा सादात: मुस्लिम इलाकों में पहुंची है विकास की साइकिल लेकिन दलित हैं नाखुश

UP चुनाव ग्राउंड रिपोर्ट: अंधेरे में खड़े इन युवाओं की मांगों को पूरा करेंगे इनके नेता ?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 9 फरवरी से यूपी के रण में दिखेंगे मुलायम, अखिलेश से पहले भाई शिवपाल के लिए करेंगे प्रचार
2 आगरा में रोड शो के बाद बोले राहुल गांधी- अखिलेश यादव के साथ मिलकर यूपी का चेहरा बदल देंगे, बसपा मुकाबले में नहीं
जस्‍ट नाउ
X