ताज़ा खबर
 

अखिलेश यादव ने कहा- लकी नंबर है 99, मान जाइए! प्रशांत किशोर नहीं करा पाए सपा-कांग्रेस गठबंधन

अखिलेश यादव कांग्रेस को 99 सीट देने के लिए तैयार भी थे लेकिन कांग्रेस नहीं मानी।

अखिलेश यादव और प्रशांत किशोर।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस और समाजवादी पार्टी में गठबंधन नहीं हुआ। अखिलेश यादव कांग्रेस को 99 सीट देने के लिए तैयार भी थे लेकिन कांग्रेस नहीं मानी। इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस की तरफ से रणनीतिकार प्रशांत किशोर अखिलेश और डिंपल यादव से बातचीत कर रहे थे। बातचीत के दौरान अखिलेश ने कहा कि वह कांग्रेस को 99 सीट देना चाहते हैं। उन्होंने जोर देकर कहा था कि 99 लकी नंबर है। लेकिन फिर भी कांग्रेस नहीं मानी। कांग्रेस अपने लिए 110 से ज्यादा सीटें चाहती थी। अखिलेश द्वारा दी गई सीटों में 25 सीटें ऐसी थी जिनपर उम्मीदवार तो सपा के होते लेकिन वह कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर लड़ते।

समाजवादी पार्टी ने 11 और 15 तारीख को होने वाले चुनावी चरण के लिए अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। सपा कुल 208 उम्मीदवारों का ऐलान कर चुकी है। उनमें से 10 सीटें ऐसी हैं जहां से कांग्रेस विजयी रही थी। फिर भी माना जा रहा है कि अंतिम वक्त पर कुछ समझौता हो सकता है।

सपा के बड़े नेता नरेश अग्रवाल ने पीटीआई से बात करते हुए कहा, ‘कांग्रेस को 54 सीटें ही दी जानी चाहिए (जहां पर 2012 के चुनाव में प्रथम स्थान पर थी या दूसरे पर) लेकिन फिर भी सीएम उनको 100 के करीब सीटें दे रहे हैं। लेकिन कांग्रेस को 140 से ज्यादा सीटें चाहिए। ऐसे में गठबंधन होना मुश्किल है।’

सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस रायबरेली और अमेठी में ज्यादा सीटों की मांग कर रही है। रायबरेली से सोनिया गांधी और अमेठी से राहुल गांधी सांसद हैं। लेकिन 2012 विधानसभा चुनाव में सपा रायबरेली से पांच और अमेठी से दो सीटें जीती थी।

 

इस वक्त की बाकी ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App