ताज़ा खबर
 

यूपी: पहली कैबिनेट बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ले सकते हैं ये पांच बड़े फैसले

योगी आदित्यनाथ ने रविवार को यूपी सीएम पद की शपथ ली।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। ( Photo Source: PTI)

भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर रविवार को लखनऊ में शपथ ली। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में शपथ ग्रहण की। योगी आदित्यनाथ को शनिवार को भाजपा विधायक दल का नेता चुना गया था। इनके साथ ही यूपी भाजपा के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य और लखनऊ के मेयर दिनेश शर्मा ने डिप्टी सीएम की शपथ ग्रहण की। इसके साथ ही 22 कैबिनेट मंत्रियों, 09 राज्यमंत्री(स्वतंत्र प्रभार) और 13 राज्यमंत्रियों ने शपथ ली।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपी के नए सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को अपने कैबिनेट की पहली बैठक करेंगे। हम आपको पांच ऐसे बड़े मुद्दे बता रहे हैं, जिन पर योगी आदित्यनाथ प्राथमिकता रखेंगे।

बुचड़खाने बंद करना
चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और योगी आदित्यनाथ सहित भाजपा नेताओं ने यूपी में अवैध बुचड़खानों का मुद्दा उठाया था। भाजपा ने कथित तौर पर गायों को कत्ल करने के मुद्दे को लेकर निशाना साधा था। हालांकि, इसके सबूत नहीं है, लेकिन भाजपा नेताओं का कहना है कि गायों को कई जगह पर कथित तौर पर कत्ल किया जा रहा है। पार्टी ने चुनावी घोषणा पत्र में यूपी में बुचड़खाने बंद करने का वादा किया था। योगी आदित्यनाथ भी बुचड़खाने बंद करने को लेकर अपनी आवाज उठात रहे हैं।

अयोध्या में राम मंदिर
भाजपा ने पिछले विधानसभा चुनाव में वादा किया था कि वे अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए मजबूत कदम उठाएंगे। ऐसा वादा भाजपा कई चुनावों में कर चुकी है। योगी आदित्यनाथ भी कई बार यह बात कह चुके हैं कि वे अयोध्या में राम मंदिर बनाने के पक्ष में है। योगी आदित्यनाथ को यूपी का सीएम बनाए जाने खबर आने के बाद यूपी में जगह पर भाजपा समर्थकों द्वारा जय श्री राम के नारे लगाए गए।

रोमियो स्कवॉयड
यूपी में पिछले कई सालों से भाजपा लव जिहाद का मुद्दा उठाती रही है। भाजपा का आरोप है कि हिंदू लड़कियों को मुस्लिम युवक झूठे वादे और पहचान बदलकर फंसा लेते हैं। लेकिन भाजपा नेताओं ने जितने भी लव जिहाद के मुद्दे उठाए, वे सही साबित नहीं हुए। योगी आदित्यनाथ खुद भी ऐसे बयान दे चुके हैं। यूपी चुनाव के दौरान योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि वे लव जिहाद की घटनाओं से निपपटने के लिए रोमिया स्कवॉयड बनाया जाएगा।

किसानों का लोन माफ
चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद कहा था कि अगर यूपी में भाजपा की सरकार बनती है कि पहले कैबिनेट में किसानों का लोन माफ करने का फैसला लिया जाएगा। इस बारे में अन्य भाजपा नेताओं भी बयान दिए थे।

तीन तलाक
भाजपा नेता यूनिफॉर्म सिविल कोड का विरोध करने वाले इस्लामिक धर्मगुरु और पर्सनल लॉ बोर्ड वालों पर निशाना साधते रहे हैं। यूपी चुनाव में प्रचंड बहुमत मिलने के बाद भाजपा नेताओं ने दावा किया था, उन्हें तीन तलाक के मुद्द पर मुस्लिम महिलाओं का समर्थन मिला है। सरकार तीन तलाक के मामले पर कुछ नहीं कर सकती, क्योंकि यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में लंबित है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X