ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश चुनाव: गाजीपुर में भाजपा ने खेला महिला कार्ड, 60 फिसद सीटें आधी आबादी को

गाजीपुर जिले में विधानसभा की सात सीट सैदपुर, जखनियां, जमानियां, गाजीपुर, जंगीपुर, मुहम्मदाबाद और जहूराबाद हैं।

Author गाजीपुर | February 28, 2017 4:52 AM
उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में त्रिशंकु नतीजे आ सकते हैं।

जयप्रकाश भारती

भारतीय जनता पार्टी ने अपने हिस्से की विधानसभा सीटों में से 60 फीसद हिस्सेदारी महिला प्रत्याशियों को देकर महिला मतदाताओं में दबदबा बना लिया। उसके विरोधी इस मुद्दे पर मुखर नहीं हो पा रहे है क्यों की समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने किसी भी महिला को प्रत्याशी नहीं बनाया है। गाजीपुर जिले में विधानसभा की सात सीट सैदपुर, जखनियां, जमानियां, गाजीपुर, जंगीपुर, मुहम्मदाबाद और जहूराबाद हैं। इनमें पांच सीटें तो गाजीपुर लोकसभा क्षेत्र और दो सीटें बलिया लोकसभा क्षेत्र में हैं। भारतीय जनता पार्टी ने जखनियां और जहूराबाद सीट अपनी सहयोगी भारत समाज पार्टी को दे दी हैं। पांच सीटों पर वह खुद चुनाव लड़ रही है। बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी ने सभी सात सीटों पर प्रत्याशी खडेÞ किए हैं। जिले की छह विधानसभा सीटों पर तिकोना और एक सीट पर सीधे संघर्ष होने की संभावना दिख रही है। सैदपुर सुरक्षित सीट पर समाजवादी पार्टी के विधायक सुभाष पासी के मुकाबले में बहुजन समाज पार्टी के राजीव किरन और भारतीय जनता पार्टी के विद्यासागर सोनकर ताल ठोंक रहे है। वही जखनियां सीट पर भारतीय समाज पार्टी के त्रिवेणी राम, सपा के गरीब राम, बहुजन समाज पार्टी के संजीव कुमार चुनाव मैदान में है। गाजीपुर सदर सीट पर भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी डाक्टर संगीता बलवंत का संघर्ष समाजवादी पार्टी के राजेश कुशवाहा और बहुजन समाज पार्टी के संतोष यादव से है।

जिले की जमानियां सीट पर पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह सपा प्रत्याशी हैं तो भारतीय जनता पार्टी की सुनीता सिंह और बहुजन समाज पार्टी के अतुल राय के बीच मुकाबला है। जंगीपुर विधानसभा में समाजवादी पार्टी के वीरेंद्र यादव, भारतीय जनता पार्टी के रामनरेश कुशवाहा और बहुजन समाज पार्टी के मनीष पांडे के बीच मुकाबला है। बलिया संसदीय सीट के अधीन जिले की मोहम्मदाबाद सीट पर मुख्तार अंसारी के भाई शिबगतुल्लाह अंसारी बसपा और भाजपा की प्रत्याशी अलका राय के बीच सीधा संघर्ष है। अलका राय के पति मोहम्मदाबाद के विधायक कृष्णानन्द राय की 29 नवंबर 2005 को क्षेत्र में ही हत्या हो गई थी। मुख्तार अंसारी पर भी हत्या का आरोप है। जहूराबाद में भासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा के सहयोग से मैदान में है तो बसपा के पूर्व विधायक कालीचरण राजभर, सपा के महेंद्र चौहान में मुकाबला है।भाजपा के लोग प्रचार कर रहे हैं कि उनकी पार्टी ने महिलाओं का पूरा सम्मान करते हुए गाजीपुर संसदीय सीट की पांच सीटों में से तीन सीटें महिलाओं को दी हैं। सपा की ओर से पिछली बार जहूराबाद सीट से शादाब फातिमा चुनाव जीती थीं। इस बार शिवपाल यादव से उनकी नजदीकी के कारण उन्हें टिकट नहीं दिया गया है। उसी प्रकार बसपा ने किसी भी महिला को पार्टी प्रत्याशी नहीं बनाया है।

 

 

अखिलेश यादव ने कहा, "मायावती बीजेपी के साथ कभी भी मना सकती हैं रक्षा बंधन"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App