ताज़ा खबर
 

यूपी चुनाव में ये 12 नाम खड़ा कर रहे परिवारवाद के खिलाफ होने के बीजेेपी के दावों पर सवाल

हाल ही में बसपा से बीजेपी में आए स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कर्ष मौर्य को ऊंचाहार से विधान सभा टिकट दिया है। वहीं स्वामी प्रसाद मौर्य को पडरौना सीट से विधान सभा टिकट मिला है।

Author January 25, 2017 9:24 AM
नरेंद्र मोदी (ऊपर), (नीचे दाएं से बाएं) पंकज सिंह, गोपाल टंडन और सुनील दत्त द्विवेदी।

यूपी विधान सभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने एक वीडियो जारी करते हुए कांग्रेस और गांधी परिवार के परिवारवाद पर हमला किया था। विज्ञापन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाइयों के हवाले से गांधी परिवार पर तंज किया गया था। इससे पहले पीएम मोदी का बयान भी मीडिया में आया था जिसमें उन्होंने बीजेपी नेताओं से अपने परिवारवालों के लिए विधान सभा टिकट की मांग न करने की अपील की थी। लेकिन यूपी विधान सभा की कुल 403 सीटों में से 371 सीटों के उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है। अब तक घोषित उम्मीदवारों की लिस्ट देखकर ऐसा कत्तई नहीं लगता कि खुद बीजेपी पीएम मोदी के दिखायी राह पर न तो चल रही है, न ही उनकी सलाह पर अमल कर रही है। आइए एक नजर डालते हैं कि कुछ प्रमुख बीजेपी उम्मीदवारों पर जिनका टिकट पार्टी के परिवारवाद के विरोध के दावों पर सवाल खड़ा करता है।

1- पंकज सिंह-  गृह मंत्री राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह यूपी बीजेपी के महासचिव थे। पार्टी ने उन्हें नोयडा से टिकट दिया है।  पंकज लम्बे समय स राजनीति में सक्रिय हैं लेकिन उन्हें विधान सभा का टिकट पहली बार मिला है।

2- आशुतोष टंडन (गोपाल टंडन)-  लोक सभा सांसद और यूपी बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालजी टंडन के बेटे गोपाल टंडन को पार्टी लखनऊ ईस्ट से चुनाव मैदान में उतारा है। गोपाल बीजेपी की राज्य इकाई के उपाध्यक्ष हैं।

3- संदीप सिंह- यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और राजस्थान के वर्तमान राज्यपाल कल्याण सिंह के पोते संदीप सिंह को बीजेपी ने अतरौली से टिकट दिया है। कल्याण सिंह के बेटे राजवीर सिंह भी बीजेपी के सांसद हैं। कल्याण सिंह की बहू प्रेमलता वर्मा भी राजनीति में हैं। इस तरह कल्याम सिंह बीजेपी के उन चुनिंदा नेताओं में शामिल हो गए हैं जिनकी तीसरी पीढ़ी को पार्टी ने जगह दी है।

4- प्रतीक शरण सिंह- बीजेपी सांसद बृज भूषण शरण सिंह के बेटे प्रतीक शरण सिंह को बीजेपी ने गोंडा से टिकट दिया है।  बृज भूषण शरण भी गोडा संसदीय सीट से ही सांसद हैं। बृज भूषण शरण साल 2008 में समाजवादी पार्टी में चले गए थे लेकिन 2014 के लोक सभा चुनाव से पहले उन्होंने बीजेपी में घर वापसी कर ली थी।

5- मृगांका सिंह- यूपी के कैराना से बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के बेटी मृगांका सिंह को पार्टी ने कैराना विधान सभा से टिकट दिया है। खास बात ये है कि मृगांका को उन्हीं के चचेरे भाई का पत्ता काटकर टिकट दिया गया है। 2014 में हुकूम सिंह के सांसद बन जाने के बाद हुए उप चुनाव में अनिल चौहान प्रत्याशी थे लेकिन वो उप चुनाव हार गए। इस बार चौहान ने टिकट काटे जाने पर बीजेपी पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए अजित सिंह के रालोद का दामन थाम लिया है।

5- नीलिमा कटियार- बीजेपी की पूर्व विधायक और यूपी बीजेपी की उपाध्यक्ष प्रेम लता कटियार की बेटी नीलिमा कटियार को कल्याणपुर से टिकट दिया है। प्रेमलता कटियार यूपी की बीजेपी सरकार में मंत्री भी रह चुकी हैं।

6- सुनील दत्त द्विवेदी– बीजेपी नेता स्वर्गीय ब्रह्म दत्त द्विवेदी के बेटे सुनील दत्त द्विवेदी को पार्टी ने फर्रूखाबाद से टिकट दिया है। ब्रह्मदत्त द्विवेदी की 1997 में उनके निजी अंगरक्षकों ने हत्या कर दी थी।  सुनील की मां प्रभा दत्त द्विवेदी भी यूपी की बीजेपी सरकार में मंत्री रह चुकी हैं।

7- जय देवी- मोहनलाल गंज से बीजेपी सांसद कौशल किशोर की पत्नी जय देवी को भी पार्टी ने महिलाबाद से विधान सभा का टिकट दिया है।

8- उत्कर्ष मौर्य- हाल ही में बसपा से बीजेपी में आए स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कर्ष मौर्य को ऊंचाहार से विधान सभा टिकट दिया है। वहीं स्वामी प्रसाद मौर्य को पडरौना सीट से विधान सभा टिकट मिला है।

9- सौरभ श्रीवास्तव-  वाराणसी कैंट सीट से बीजेपी ने पूर्व विधायक ज्योत्सना श्रीवास्तव की जगह उनके बेटे सौरभ श्रीवास्तव को टिकट दिया है। सौरभ के दिवंगत पिता हरिश्चंद्र श्रीवास्तव भी बीजेपी के विधायक रह चुके हैं। पीएम मोदी भी वाराणसी से सांसद हैं ऐसे में उनके संसदीय क्षेत्र में भी पार्टी परिवारवाद विरोध की मिसाल नहीं पेश कर सकी।

10- अलका राय- गाजीपुर की मोहम्मदाबाज सीट से स्वर्गीय कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय को टिकट दिया है। कृष्णानंद राय भी इसी सीट से विधायक रहे थे। राय की 2005 में गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी।

11- अनीता कमल- आलापुर विधान सभा सीट से बीजेपी के पूर्व विधायक त्रिवेणी राम की बहू अनीता कमल को टिकट दिया गया है।

12- सर्वेश सिंह- बढ़ापुर से बीजेपी ने पार्टी के सांसद सर्वेश सिंह के बेटे सुशांत सिंह को टिकट दिया है। सर्वेश सिंह यूपी के मुरादाबाद से सांसद हैं।

वीडियो: उत्तर प्रदेश चुनाव 2017: कांग्रेस ने जारी की स्टार कैंपेनर्स की लिस्ट, प्रियंका गांधी का नाम भी शामिल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X