ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश चुनाव: गाजीपुर में भाजपा की तीनों महिला उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की

समाजवादी पार्टी ने अपनी 4 सीटें गाजीपुर जिले से गवा दी पर दो सीट बचाने में सफल रही सैदपुर से विधायक सुभाष पासी फिर चुनाव जीत गए।

Author गाजीपुर | March 13, 2017 1:15 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

भाजपा की ओर से विधानसभा चुनाव में लड़ी तीनों महिला उम्मीदवारों संगीता बलवंत, अलका राय व सुनीता सिंह ने विजय दर्ज कर नया इतिहास बना दिया। वही बहुजन समाज पार्टी का गाजीपुर में खाता नहीं खुला। सुहेलदेव भासपा ने दो और सपा ने दो सीटें जीत ली।गाजीपुर सदर विधानसभा से भाजपा उम्मीदवार डाक्टर संगीता बलवान बिंद को 91604 मत, सपा के राजेश कुशवाहा को 59036 और बसपा के संतोष यादव को 54462 मत मिला। उसी प्रकार जमानिया से भाजपा की सुनीता सिंह को 76689 मत, सपा के ओम प्रकाश सिंह को मात्र 49345 मत और बसपा के अतुल राय को 67357 मत मिला। सुनीता सिंह विजयी रही। मोहम्मदाबाद की सीट पर भाजपा की अलका राय को एक लाख 21 हजार 732 मत मिला, बसपा के शिबगतुल्लह अंसारी को मात्र 89029 और कांग्रेस सपा गठबंधन के जनक कुशवाहा को 9857 मत मिला। अलका राय जीती। उनके पति कृष्णानंद राय की 2005 में हत्या हुई थी। उसमें बसपा उम्मीदवार के भाई मुख्तार अंसारी आरोपी है। भाजपा समर्थित सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के उम्मीदवार ओमप्रकाश राजभर को जहूराबाद विधानसभा क्षेत्र से विजय मिली। उनको 86382 मत, बसपा के कालीचरण को 61700, सपा के महेंद्र चौहान को 64251 मत ही मिला। उसी तरह भाजपा समर्थित सुहेलदेव भासपा के उम्मीदवार त्रिवेणी राम को जखनिया से विजय मिली। उन्होंने 832108 पाया, सपा के गरीब राम को 78376, बसपा के संजीव कुमार को 66643 मत मिला।

समाजवादी पार्टी ने अपनी 4 सीटें गाजीपुर जिले से गवा दी पर दो सीट बचाने में सफल रही सैदपुर से विधायक सुभाष पासी फिर चुनाव जीत गए। उन्हें सैदपुर सुरक्षित सीट से जीत मिली वह 76237 मत पाए, भाजपा के विद्यासागर सोनकर 47737 मत और बसपा के राजीव किरण 59407 मत पाए। बहुजन समाज पार्टी का खाता इस बार भी नहीं खुला। पिछले चुनाव में भी उनकी हालत शून्य ही थी। भाजपा के सांसद रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा का प्रयास भी इस बार की जीत में महत्वपूर्ण रहा। यहां भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जादू चला। उसी के साथ लोग यह भी चर्चा करते रहें की सिन्हा ने रेल के क्षेत्र में बहुत काम किया। जिससे जनता को सीधा लाभ हुआ। यहां के लोगों को उम्मीद है कि मनोज सिन्हा प्रदेश के मुख्यमंत्री बन सकते हैं। प्रधानमंत्री जी पूर्वांचल का विकास खुद कर रहे हैं।

 

विधानसभा चुनाव 2017: पांचों राज्यों के नतीजे आने के बाद किसने क्या कहा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App