ताज़ा खबर
 

यूपी बीजेपी के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य बोले- सत्ता में आए तो अयोध्या में बनाएंगे राम मंदिर

मौर्य ने कहा कि राम मंदिर हमारे लिए आस्था का विषय है, लेकिन फिलहाल कोई मुद्दा नहीं है।

keshav prasad maurya, Akhilesh yadav, BJP Samajwadi party, keshav prasad Akhilesh, Akhilesh yadav News, Akhilesh yadav Govtभारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य। (पीटीआई फाइल फोटो)

बीजेपी ने उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले एक बार फिर राम मंदिर मुद्दा उठा दिया है। पार्टी ने कहा कि अगर आगामी यूपी चुनावों में बीजेपी पूर्ण बहुमत से जीतती है तो अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण किया जाएगा। यूपी में 11 फरवरी से सात चरणों में चुनाव होने हैं। पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के प्रमुख केशव प्रसाद मौर्य ने रिपोर्टरों से कहा, ‘राम मंदिर आस्था का सवाल है, लेकिन फिलहाल कोई मुद्दा नहीं है। उन्होंने कहा कि राम लला का भव्य मंदिर दो महीने में नहीं बनने जा रहा है। इसका निर्माण चुनावों के बाद किया जाएगा, जब बीजेपी पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आएगी।’ इस दौरान उन्होंने अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री न तो पिछड़ा वर्ग के साथ हैं और न ही दलितों के साथ। मौर्य ने कहा, ‘वह सिर्फ विश्वासघात करते हैं।’

अखिलेश के बारे में मौर्य का यह बयान तब आया है जब इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि 17 अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) समूहों से जुड़े लोगों को नया जाति प्रमाण पत्र नहीं जारी किया जाए। समाजवादी पार्टी-कांग्रेस गठबंधन के बारे में पूछे जाने पर मौर्य ने कहा, ‘एसपी डूबता जहाज है और कांग्रेस का जहाज काफी पहले डूब चुका है। अगर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) भी इसमें शामिल होती है तब भी वह भी इसे बचाने में सक्षम नहीं होगी।’केशव प्रसाद मौर्य ने आरोप लगाया कि यादव के तहत समूचा सरकारी तंत्र भ्रष्टाचार में लिप्त है। उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी सत्ता में आई तो वह जांच कराएगी और अगर जरूरत पड़ी तो ‘उन्हें जेल भेजेगी।’

आपको बता दें कि 3 जनवरी को केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा था कि भाजपा उत्तर प्रदेश में विकास के अजेंडे पर चुनाव लड़ेगी। पार्टी राम मंदिर जैसे मुद्दों पर चुनाव नहीं लड़ेगी। उन्होंने कहा था कि असली झुकाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पक्ष में है, जिन्हें उन्होंने विकास का प्रतीक और एक बड़ा चेहरा बताया। सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने कहा था कि काला धन के खिलाफ अभियान ने लोगों और विशेष तौर पर समाज के निचले हिस्से के लोगों को भाजपा की ओर आकर्षित किया है और नोटबंदी का फल सामने दिखाई पड़ने से इसमें और तेजी आएगी। नायडू ने कहा था कि हमारे पास उत्तर प्रदेश से रिपोर्ट आ रही है। नया तबका और जिन लोगों ने पहले भाजपा से दूरी बना ली थी, खासतौर पर समाज के निचले वर्ग के लोगों ने वे सब नोटबंदी या पुनर्मुद्रीकरण के बाद भाजपा की तरफ आ रहे हैं।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अखिलेश यादव ने कहा- हम 250 और कांग्रेस 50 सीटें जीतेगी, रैली से दूर रहे कांग्रेस के नेता
2 यूपी में बहुबली नेता और पूर्व बसपा महासचिव भी करेंगे कांग्रेस का प्रचार, पार्टी ने प्रचारकों की लिस्ट में किया शामिल
3 उत्तर प्रदेश चुनाव: अखिलेश ने चुनाव प्रचार के पहले दिन गायत्री प्रजापति के लिए मांगे वोट, भाजपा ने कसा तंज