ताज़ा खबर
 

मिर्जापुर रैली में नरेंद्र मोदी ने कहा- अगली 11 मार्च को सपा-बसपा और कांग्रेस को लगेगा ‘करंट’

मिर्जापुर रैली में नरेंद्र मोदी ने अखिलेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि अपना काम नहीं करने वाले हमसे हिसाब मांग रहे हैं।

Author मिर्ज़ापुर | March 3, 2017 4:59 PM
यूपी में चुनावी रैली को संबोधत करते पीएम नरेंद्र मोदी।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के अंतिम और सातवें चरण के लिए प्रचार करने यहां पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार (3 मार्च) को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तथा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। मोदी ने कहा कि जो खुद अपना काम ठीक से नहीं कर पा रहे हैं और केवल काम करने का ढोल पीट रहे हैं, वे हमसे काम का हिसाब मांग रहे हैं। मिर्जापुर में परिवर्तन संकल्प रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने ये बातें कहीं। मोदी ने कहा, “आजकल मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मुझे भी काम बताते रहते हैं, अच्छा ही है। उत्तर प्रदेश से सांसद हूं, तो उनका कहना भी सही है। यह उनका हक है, लेकिन काम का ढोल पीटने के बजाय काम करते तो अच्छा होता।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि अखिलेश यादव कहते हैं कि मोदी जी बिजली का तार छूकर दिखाओ। मोदी ने चुटकी लेते हुए कहा, “मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आजकल जिस नए साथी के साथ घूमते फिर रहे हैं, उन्होंने ही कुछ दिनों पहले 27 साल यूपी बेहाल को लेकर यात्रा की थी।” मोदी ने कहा कि राहुल की यात्रा के दौरान ही 14 सितम्बर, 2016 को मडियान में खाट सभा का कार्यक्रम था। वहां पर उनका हाथ बिजली के तार से छू गया था। तब वहां मौजूद गुलाम नबी आजाद ने राहुल का यह कहते हुए हाल चाल पूछा था कि आप ठीक हैं न। कहीं कुछ हुआ तो नहीं।

मोदी ने कहा, “कांग्रेस के नेता ने गुलाम नबी आजाद से कहा कि घबराइए मत, उप्र में बिजली का तार तो होता है, लेकिन उसमें बिजली नहीं होती। यह उनके अपने साथी ने कहा था। अखिलेश के सवाल का जवाब तो उसी दिन मिल गया था।” प्रधानमंत्री ने पूर्व मुख्यमंत्री मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि मायावती ने मिर्जापुर के पत्थरों को चोरी छिपे मंगवाकर अपनी मूर्तियां बनवाई थीं और बाद में जब उनसे पूछा गया कि ये पत्थर कहां से आए तो उन्हें मिर्जापुर का नाम लेने में भी शर्म आ रही थी। उन्होंने कहा था कि उन्होंने पत्थर तो राजस्थान से मंगवाए हैं।

मोदी ने कहा कि जिनको मिर्जापुर के पत्थरों से प्यार न हो, वह यहां की जनता से क्या प्यार करेगा। मिर्जापुर के पीतल उद्योग का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि देश की जनसंख्या 125 करोड़ है। मिर्जापुर के पीतल उद्योग की बेहतरी के लिए राज्य सरकार ने काम किया होता, तो आज यहां के युवाओं को अन्य राज्यों में जाकर रोजगार ढूंढने की जरूरत नहीं पड़ती। प्रधानमंत्री ने कहा कि इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने भी कई मौकों पर राज्य सरकार को उनके काम के लिए फटकार लगा चुकी है। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार को गलत कामों की लत लग गई है।

मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हर चीज का रेट तय होता है। काम के पहले कितना देना है और काम के बाद कितना। सबकुछ तय है। ऐसे में ईमानदारी की उम्मीद कैसे की जा सकती है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है। आबादी के हिसाब से यह दुनिया का पाचवां सबसे बड़ा देश है। यहां की गरीबी, बेरोजगारी दूर हो गई तो समझो देश से गरीबी मिट गई। जब तक उप्र का विकास नहीं होगा तब तक देश आगे नहीं बढ़ सकता। मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जातिगत और अपने-पराए का खेल बहुत हुआ। अब उत्तर प्रदेश इन सब चीजों से आगे निकलकर विकास के पथ पर आगे बढ़ने के लिए तैयार है। प्रधामनंत्री ने दावे के साथ कहा कि उत्तर प्रदेश चुनाव में जनता ने ऐसा तार बिछाकर रखा है, जिससे सपा, बसपा और कांग्रेस तीनों को 11 मार्च के बाद करंट लगने वाला है।

राहुल गांधी का मजाक उड़ाने की कोशिश में फल ही बदल गए पीएम नरेंद्र मोदी, अनानास की जगह नारियल का कर बैठे जिक्र

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App