ताज़ा खबर
 

वीडियो: मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सामने ही फूट-फूटकर रो पड़ा सपा उम्मीदवार, कार्यकर्ताओं ने मंच से हटाया

तिवारी से पहले बरहज विधानसभा से समाजवादी पार्टी ने गेंदालाल को उम्मीदवार बनाया था।

पीडी तिवारी समाजवादी यूथ विंग से जुड़े थे। वह अखिलेश के करीबी रहे हैं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में देवरिया की बरहज सीट से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के सामने मंच पर ही फूट-फूटकर रोने लगे। शनिवार को इस सीट पर मतदान होना है। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने इसके बाद उन्हें मंच से हटाया।
बरहज सीट पर पहले से घोषित एक अन्य उम्मीदवार का टिकट काटकर समाजवादी पार्टी ने पीडी तिवारी को प्रत्याशी घोषित किया है, लेकिन इसका पार्टी के अंदर ही काफी विरोध हो रहा है। उनके समर्थकों का कहना है कि इससे वह काफी परेशान हैं। एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक पीडी तिवारी के समर्थन में सीएम अखिलेश यादव बरहज विधानसभा के भलुवनी कस्बे में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। उम्मीदवार के रोने से पहले अखिलेश ने उन्हें धन्यवाद भी दिया। इसके बाद जब तिवारी भाषण देने आए, तो कुछ ही सेकंड बाद फूट-फूटकर रोने लगे, जिसके बाद कार्यकर्त्ता उन्हें किनारे ले गए।

बता दें कि तिवारी से पहले बरहज विधानसभा से समाजवादी पार्टी ने गेंदालाल को उम्मीदवार बनाया था। बाद में टिकट काटकर सीएम व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय के करीबी पीडी तिवारी को टिकट दिया गया। इसका पुराने प्रत्याशी ने भी इसका विरोध किया था। पीडी तिवारी समाजवादी यूथ विंग से जुड़े थे। वह अखिलेश के करीबी रहे हैं। इस चुनावी जनसभा में अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा, प्रधानमंत्री हमसे झगड़ा कर रहे हैं। इतनी बड़ी सीट है उनके पास हमने तो एक सभा में कहा कि अगर उस सीट पर आपका दिल नहीं लग रहा है तो चलो उस सीट पर हम लोग अदलाबदली कर लेते हैं। यह छोटा मोटा चुनाव नहीं है। इससे पहले बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने रैली में अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि यूपी में काम नहीं कारनामे बोलते हैं। पीएम ने यूपी सरकार की साइट का हवाला देते हुए राज्य सरकार का मजाक उड़ाया था।

वहीं इस चुनाव में समाजवादी पार्टी का एक एेसा भी प्रत्याशी भी खड़ा हुआ है, जो खुद को ही जूते मार रहा है। पिछले दो विधानसभा चुनाव हारने वाले बुलंदशहर से उम्मीदवार शूजत आलम खुद को जूते मारकर मतदाताओं से अपनी पुरानी गलतियों के लिए माफी मांग रहे हैं। उनका इलाके में बीएसपी के उम्मीदावार से मुकाबला है। वह लोगों से भरो हमारी झोली की अपील कर रहे हैं। यूपी चुनावों के सात चरणों के मतदान पूरे होने के बाद 11 मार्च को नतीजे घोषित किए जाएंगे।

यहां देखें वीडियो ः

अखिलेश यादव ने माना- “कांग्रेस के साथ गठबंधन पारिवारिक झगड़े के कारण किया”, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App