ताज़ा खबर
 

उत्‍तर प्रदेश: अभी तक नहीं तय हो पाया सीएम का नाम, 18 मार्च को लखनऊ में बैठक करेंगे BJP विधायक

बैठक में वरिष्‍ठ नेता वेंकैया नायडू और भूपेंद्र यादव भी हिस्‍सा लेंगे।

गुरुवार को नई दिल्‍ली में भाजपा के संसदीय पार्टी की बैठक के दौरान पीएम मोदी व अन्‍य वरिष्‍ठ नेता। (Source: PTI)

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री का चुनाव करने में भाजपा को खासी जद्दोजहद करनी पड़ रही है। गुरुवार को पार्टी के संसदीय दल की बैठक में भी सीएम के नाम पर सहमति नहीं बन सकी। अब पार्टी ने 18 मार्च को लखनऊ में भाजपा विधायकों की बैठक बुलाई है। रिपोर्ट्स के अनुसार, बैठक में वरिष्‍ठ नेता वेंकैया नायडू और भूपेंद्र यादव भी हिस्‍सा लेंगे। भारतीय जनता पार्टी की संसदीय बोर्ड की बैठक गुरुवार (16 मार्च) को नई दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में हुई। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बैठक में यूपी में सरकार गठन को फिलहाल टालने के निर्णय लिया गया है। रिपोर्ट के अनुसार संसदीय बोर्ड ने यूपी के सीएम नाम पर अंतिम मुहर लगाने से पहले पार्टी सभी विधायकों की आम स्वीकृति चाहती है। यूपी में प्रचंड बहुमत प्राप्त करने के बाद भाजपा ने कहा था कि यूपी के भावी सीएम का नाम 16 मार्च को सार्वजनिक किया जाएगा लेकिन गुरुवार को पार्टी ने किसी भी नाम की घोषणा नहीं की।

दूसरी तरफ, भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक के सिलसिले में दिल्ली आए यूपी बीजेपी के चीफ केशव प्रसाद मौर्य की गुरुवार को तबियत बिगड़ गई। उन्हें राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि मौर्य को ब्लड प्रेशर की दिक्कत होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्‍हें शुक्रवार को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जाएगा। मौर्य का नाम यूपी सीएम पद के संभावितों में शामिल है। यूपी के सीएम बनने की लिस्ट में राजनाथ सिंह का भी नाम है। राजनाथ के अलावा भी लिस्ट में कई बड़े नाम शामिल हैं।

राजनाथ सिंह के अलावा जिस नाम पर जोर दिया जा रहा है वह मनोज सिन्हा का है। 57 साल के मनोज सिन्हा के पास इस वक्त रेल मंत्रालाय का प्रभार है। सिन्हा ऊंची जाति के भूमिहार हैं। वह पूर्वांचल से ही हैं। उस इलाके पर ही बीजेपी का खासा जोर भी है। पीएम मोदी की वाराणसी लोकसभा सीट भी उसी इलाके में आती है।

2017 में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने यूपी में बड़ी जीत दर्ज की है। 80 प्रतिशत वोटों के साथ वह 1977 के बाद सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है।

विधानसभा चुनाव 2017: पांचों राज्यों के नतीजे आने के बाद किसने क्या कहा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App