ताज़ा खबर
 

सपा-कांग्रेस गठबंधन पर बीजेपी का निशाना- देश पर एकछत्र राज करने वाली पार्टी आज कटोरा लेकर घूम रही है

जब यह गठबंधन हो गया है तो विपक्षी दलों, खासकर भाजपा ने हमलावर रुख अख्तियार कर लिया है।

Congress-SP Alliance, Uttar pradesh Election 2017, UP Election 2017, Congress-Samajwadi Party Election, Akhilesh-Rahul, Akhilesh Yadav, Rahul Gandhi, Congress In UP, Kailash Vijayvargiya, Hadd kar Di aapne, UP Assembly Polls 2017, Twitter, India, Jansattaभाजपा के राष्‍ट्रीय महासचिव ने यह चुटीला कार्टून ट्विटर पर पोस्‍ट किया है। (Source: Twitter/Kailash Vijayvargiya)

उत्‍तर प्रदेश चुनाव 2017 से पहले समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन पर विरोधी चुटकी ले रहे हैं। समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन करके चुनावों में उतरने का फैसला किया है। राज्‍य में सपा 298 सीटों और कांग्रेस 105 सीटों पर लड़ेगी। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की खास दिलचस्पी की वजह से कांग्रेस और सपा के गठबंधन की अटकलें काफी पहले से थीं। बीच में एक बार लगा कि जल्द ही इसका एलान हो जाएगा लेकिन सीटों की संख्या पर बात ना बनने की वजह से इसमें खासा विलम्ब हो गया। सपा ने गत शुक्रवार को अपने 210 उम्मीदवारों की सूची जारी करके कांग्रेस को कड़ा संदेश भी दिया था। उस वक्त लग रहा था कि अब यह गठबंधन नहीं बनेगा। हालांकि सपा की तरफ से गठबंधन की सम्भावना खत्म होने की बात भी नहीं कही गयी थी। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच सीधी बातचीत होने के बाद इस गठबंधन को मूर्तरूप देने का फैसला किया गया।

अब जब यह गठबंधन हो गया है तो विपक्षी दलों, खासकर भाजपा ने हमलावर रुख अख्तियार कर लिया है। भाजपा के राष्‍ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस की ‘दयनीय’ हालत पर टिप्‍पणी करते हुए ट्वीट किया, ”कभी देश पर एकछत्र राज्य करने वाली पार्टी,आज इतनी बेग़ैरत? 1 क्षेत्रीय पार्टी के आगे सीटों हेतु कटोरा लिए घूम रही है। राहुल जी हद कर दी आपने।” कैलाश के इस ट्वीट पर कुछ यूजर्स ने उनसे पूछा कि आखिर वहां बीजेपी सिर्फ 23 सीटों के साथ गठबंधन में क्‍यों है।

विकास ने पूछा, ”पंजाब में बीजेपी क्या कर रही है। दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी, मात्र 23 सीटों पर।” एक यूजर ने महाराष्‍ट्र में शिवसेना के साथ बीजेपी के संबंधों पर सवाल उठाए। उसने लिखा, ”बीजेपी जब महाराष्‍ट्र में शिवसेना के आगे कटोरा लेकर खड़ी रहती थी, वे दिन भूल गए क्‍या।”

Next Stories
1 नाराज मुलायम प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में नहीं आए, कुर्सी पड़ी रही खाली, रात में अखिलेश ने घर जाकर मैनिफेस्‍टो के साथ खिंचवाई फोटो
2 जानिए प्रियंका गांधी ने अखिलेश से बातचीत के लिए RAS के इस अफसर को क्यों बनाया था अपना दूत
3 बसपा को चलाने के लिए इन पांच बड़े नेताओं पर निर्भर हैं मायावती
चुनावी चैलेंज
X