ताज़ा खबर
 

अखिलेश यादव का पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज- दिल्ली में मन नहीं लगता तो हमसे कुर्सी की अदला-बदली कर लें

यूपी में सातवां और आखिरी चरण का चुनाव प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा के लिए नाक की लड़ाई बन गई है।

Narendra Modi, Akhilesh yadav, Samajwadi Party, Bharatiya Janata Party, Akhilesh Government 15 years, Politicsएक कार्यक्रम में हाथ मिलाते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री को दिल्ली में मन नहीं लग रहा हो तो वो हमसे कुर्सी की अदला-बदली कर लें। सोमवार (06 मार्च को) जौनपुर में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने ये बातें कहीं। अखिलेश ने व्यंग्य किया कि प्रधानमंत्री क्यों आजकल उत्तर प्रदेश में ही जमे हुए हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर साम्प्रदायिक सियासत करने का भी आरोप लगाया और कहा कि मोदी ने बिजली को भी हिन्दू- मुसलमान बना दिया। अखिलेश ने सपा-कांग्रेस गठबंधन के उम्मीदवारों के पक्ष में चुनाव प्रचार करते हुए कहा कि पीएम मोदी ने उन पर आरोप लगाया कि बिजली देने में भेदभाव किया गया है, लेकिन जब सपा सरकार ने आंकड़े दिए तो उनकी बोलती बंद हो गई।

अखिलेश ने लोगों को बताया कि पूरे देश में बिजली राज्य सरकार देती है। यह राज्य सरकार का काम है लेकिन पीएम मोदी कहते हैं कि काशी में उन्होंने बिजली दी। अखिलेश ने वन रैंक, वन पेंशन पर भी पीएम मोदी को घेरा और कहा कि प्रधानमंत्री ने यहां भी पूर्व सैनिकों को धोखा दिया है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि क्या आपलोगों ने ऐसे कमाल की प्रधानमंत्री देखा है जो सीमा पर सर्जिकल स्ट्राइक के बहाने सैनिकों को लड़वा दिया है। सीएम ने पूछा कि क्या सीमा पर समस्या का समाधान हुआ।

अखिलेश ने कहा कि जौनपुर के लोगों को भी बनारस की हवा का एहसास हो चुका है। उन्होंने कहा कि सपा-कांग्रेस के रोड शो में जिस तरह का जनसमर्थन जुटा उसे देखकर हम कह सकते हैं कि बनारस की जनता भाजपा से किनारा कर रही है और समाजवादियों की मदद करने जा रही है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूपी विधान सभा चुनावों के प्रचार के लिए अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हैं। यह तीसरा दिन है जब मोदी वाराणसी में प्रचार कर रहे हैं। आज उत्तर प्रदेश चुनावों के आखिरी और सातवें चरण के चुनाव प्रचार का अभियान समाप्त हो रहा है। मोदी के अलावा उनकी सरकार के कई वरिष्ठ मंत्री और पार्टी के भी कई वरिष्ठ नेता बनारस कैम्प कर रहे हैं। यूपी में सातवां और आखिरी चरण का चुनाव प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा के लिए नाक की लड़ाई बन गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तर प्रदेश चुनाव: वाराणसी की 8 सीटों पर चुनावी शोर के बीच मतदाता मौन, भाजपा में छाई है बेचैनी
2 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: वाराणसी में मोदी का रोड शो, बिगड़े दूध से मक्खन निकालने की कोशिश
3 उत्तर प्रदेश चुनाव: रेल राज्यमंत्री पर गाजीपुर की 7 सीटों में ‘कमल’ खिलाने का दबाव, फिलहाल 6 सीटों पर सपा का कब्ज़ा
यह पढ़ा क्या?
X