ताज़ा खबर
 

दिल्ली: उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए जा रही 1 करोड़ की रकम पुलिस ने की जब्त

रुपए को इतने करीने से बैग में रखा गया था कि सारे समान को बाहर निकाल कर जांच के बाद भी कुछ वजन लगने पर संदेह हुआ था

Author नई दिल्ली | February 5, 2017 1:50 AM
100 के नोटों की तस्वीर।

पूर्वी दिल्ली की आनंद विहार पुलिस चौकी के कर्मचारियों के हाथों शुक्रवार को लखनऊ ले जा रहे एक करोड़ रुपए की पकड़ी गई नए करंसी उत्तर प्रदेश चुनाव में प्रयोग किया जाना था। शुरुआती जांच में मेरठ से आनंद विहार के रास्ते लखनऊ जा रहे इस भारी भरकम करंसी की खेप से जुड़े अन्य लोगों की भी पुलिस तफ्तीश कर रही है। करंसी के साथ गिरफ्तार रमजान और अशोक उत्तर प्रदेश के ही हैं और संदेह है कि इनसे जुड़े कुछ और व्यक्ति दिल्ली में रहकर इस प्रकार रुपए आदान-प्रदान का काम कर रहे हैं। पुलिस अधिकारी का कहना है कि मामला करंसी का होने के कारण जांच आयकर विभाग के अधिकारी कर रहे हैं। बावजूद इसके पुलिस खुद भी इस तरह के गिरोह की तलाश के लिए छापेमारी अभियान चला रही है। शुक्रवार रात आनंद विहार बस अड्डे पर बस पकड़ने वालों के सामान की टर्मिनल परिसर में प्रवेश करने से पहले रूटीन जांच में एक बैग पर संदेह होने और फिर उससे एक करोड़ की रकम मिलने के बाद पुलिस ने रमजान और अशोक से कई बिंदुओं से पूछताछ और जांच की दिशा आगे बढ़ा रही है।

रुपए को इतने करीने से बैग में रखा गया था कि सारे समान को बाहर निकाल कर जांच के बाद भी कुछ वजन लगने पर संदेह हुआ था और फिर एक करोड़ रुपए बरामद हुए। भारी बैग को पूरी तरह से जांच करने पर लगा कि दाल में कुछ काला है। जब सख्ती से दोनों से पूछताछ की गई तो मामला सामने आया। दोनों के चेहरे से हवाइयां उड़ते ही सिपाही संदीप ने बैग की पेंदी में लगे गत्ते हटाकर देखा तो उसके नीचे 2000 रुपए के नए नोट की 50 गड्डियां रखी हुई थीं।
पुलिस अधिकारी का कहना है कि आम तौर पर रूटीन तलाशी लेने में बैग में इतनी बड़ी संख्या में नोट की मौजूदगी का पता चलना असंभव था। इतनी रकम देखने के बाद जब सख्ती से रमजान और उसके साथी अशोक से पूछताछ हुई तो दोनों ने बताया कि एक करोड़ की रकम उन्हें लखनऊ पहुंचानी थी और वो रकम उसे किसी राजनीति से संबंध रखनेवाले व्यक्ति ने ही दी थी।पुलिस के आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, अब दोनों से पूछताछ के बाद यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि रकम किस दल की थी और इसके अलावा दिल्ली में और कितने लोग इस तरह के धंधे से जुड़े होकर उत्तर प्रदेश चुनाव में ऐसी रकम पहुंचाने का काम कर रहे हैं।

 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017: किसके बीच है मुकाबला, कौन रहा है विजेता जानिये

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App