ताज़ा खबर
 

हार के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती का राज्यसभा सदस्य बनना मुश्किल, अखिलेश यादव के लिए भी चुनौतीपूर्ण

अगर बसपा सपा के साथ गठबंधन कर लेती है तो मायावती के राज्यसभा सदस्य बनने का रास्ता साफ हो जाएगा, लेकिन मायावती सदस्य बनने के लिए सपा का साथ लेती हैं या नहीं यह देखना बहुत ही दिलचस्प होगा।

बसपा सुप्रीमो मायावती (बाएं) और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में बीजेपी से मिली करारी शिकस्त के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के सामने एक बड़ा संकट खड़ा हो गया है। जहां एक तरफ मायावती के राज्यसभा सदस्य बनने में काफी अड़चने आ रही हैं तो वहीं दूसरी तरफ अखिलेश यादव के पास राजनीति में बने रहने के लिए राज्यसभा सदस्य बनना ही एकमात्र विकल्प बचता है। अभी अखिलेश विधान परिषद के सदस्य हैं लेकिन राज्यसभा का सदस्य बनने के लिए उन्हें 2018 तक का इंतजार करना होगा। वहीं इसका एक उपाय यह भी है कि अगर बसपा सपा के साथ गठबंधन कर लेती है तो मायावती के राज्यसभा सदस्य बनने का रास्ता साफ हो जाएगा, लेकिन मायावती सदस्य बनने के लिए सपा का साथ लेती हैं या नहीं यह देखना बहुत ही दिलचस्प होगा।

दोनों पार्टियां गठबंधन कर लेती हैं तो दोनों अपना एक-एक सदस्य राज्यसभा में भेज सकती हैं। वहीं अखिलेश यादव के राज्यसभा सदस्य बनने की राह 2018 में साफ होगी तब तक उन्हें इंतजार करना पड़ेगा और इसके साथ ही राज्यसभा में सदस्य बनने के अलावा विपक्ष का नेता बनना भी अखिलेश के सामने चुनौतीपूर्ण होगा। आजम खान और शिवपाल यादव को जीत हासिल हुई है तो हो सकता है इनमें से ही किसी को पार्टी द्वारा विपक्ष का नेता बनाया जाए।

गौरतलब है कि 2012 में सपा से विधानसभा चुनाव हारने के बाद मायावती राज्यसभा सदस्य बन गई थीं क्योंकि उस वक्त 87 बसपा के विधायक विधानसभा में थे जिसके कारण वह सदस्य बन गई थीं लेकिन इस बार उनके पाले में केवल 19 सीटें ही आई हैं जिसके कारण उनका राज्यसभा सदस्य बनना मुश्किल है क्योंकि इलेक्ट्रॉल कॉलेज प्रोविजन के हिसाब से राज्यसभा सदस्य बनने के लिए बसपा के पास पर्याप्त विधायक नहीं हैं। आपको बता दें कि सपा की नींव रखने वाले मुलायम सिंह के समर्थकों का कहना है कि अखिलेश यह कह चुके हैं कि वे केवल अगले तीन महीनों तक ही अध्यक्ष पद पर रहेंगे, जिसके बाद मुलायम के करीबी फिर से मुलायम को अध्यक्ष बनाए जाने की मांग कर सकते हैं।

देखिए वीडियो - मायावती ने ईवीएम के साथ छेड़छाड़ का लगाया आरोप; कहा- "दोबारा हों चुनाव"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App