ताज़ा खबर
 

UP Assembly Election 2017: आज़म खान का योगी आदित्यनाथ पर निशाना- इनके पास खोपड़ी होगी तभी तो दिमाग होगा

इसके बाद आज़म खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि हमारी सरकार ने जो अपने घोषणा पत्र में जनता से वादे किए थे, वो हमने पूरे किए लेकिन इन बादशाह ने तो जनता को लाइन में लगा दिया।

उप्र केबिनेट मंत्री आजम खान। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के छठे चरण का चुनाव प्रचार शुरु हो गया है। अपने बेतुके बयानों से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले प्रदेश सरकार में मंत्री आज़म खान ने गोरखपुर के बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है। मऊ में एक जनसभा को संबोधित करते हुए आज़म खान ने कहा कि योगी आदित्यनाथ के पास जब खोपड़ी ही नहीं है तो उनके पास दिमाग कहां से होगा। इसके बाद आज़म खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि हमारी सरकार ने जो अपने घोषणा पत्र में जनता से वादे किए थे, वो हमने पूरे किए लेकिन इन बादशाह ने तो जनता को लाइन में लगा दिया। पैसों के लिए लाइन में लगकर जनता मर लेकिन इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ा, जिसके लिए जनता इन्हे कभी माफ नहीं करेगी।

वहीं बीजेपी और बसपा के गठबंधन की बात करते हुए आज़म खान ने कहा कि इन्होंने मिलकर चार बार सरकार बनाई है। अगर इस बार इन्होंने गठबंधन कर सरकार बनाई तो जनता इन्हें बर्दाश्त नहीं कर पाएगी। मोदी को बादशाह कहते हुए आज़म खान ने कहा कि पहली बार ऐसा कोई आदमी देखा है कि जो कि बड़े पद पर होकर छोटी बात करता है। उन्होंने कहा कि ये बादशाह धर्म की राजनीति कर प्रदेश में दंगे कराना चाहता है। इसके बाद आज़म खान ने कहा कि ये अभी हमें कुत्ता कह रहे हैं, कुछ समय बाद इनके मंत्रियों द्वारा हमें कुत्ता कहा जाएगा।

जनसभा को सबोधित करते हुए आज़म खान ने कहा कि सपा सरकार को एक भी वोट कम मिला तो हमारी सरकार सत्ता में दोबारा नहीं आएगी और ये बीजेपी वाले जनता की बर्बादी की तैयारी कर चुके हैं। आज़म खान ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी सरकार ने प्रदेश में गंगा की सफाई के लिए पांच रुपए तक नहीं दिए हैं। इसके बाद आज़म ने कहा कि गंगा न कभी गंदी थी और न कभी गंदी होगी लेकिन गंदी तो बीजेपी की सोच है।

देखिए वीडियो - उत्तर प्रदेश चुनाव 2017: मायावती ने किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन करने से किया इंकार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App