UP Election 2017 news, Jhansi news, bharitya janta party sent empty train in bundelkhand said by akhilesh yadav - मोदी पर हमला बोलते हुए अखिलेश ने कहा- अच्‍छे दिन का वादा करने वालों ने पानी की खाली ट्रेन भेजी थी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मोदी पर हमला बोलते हुए अखिलेश ने कहा- अच्‍छे दिन का वादा करने वालों ने पानी की खाली ट्रेन भेजी थी

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा विरोधियों का ब्लड प्रेशर बढ़ने की बात कहे जाने पर भी अखिलेश ने कटाक्ष किया और कहा तीसरे-चौथे चरण का मतदान हो जाने दो, भाजपा के नेताओं का ब्लड प्रेशर नापना पड़ेगा।

Author झांसी | February 20, 2017 10:16 AM
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव। (फोटो-पीटीआई/फाइल)

उत्तर प्रदेश के मुख्मयंत्री अखिलेश यादव ने रविवार को बुंदेलखंड के झांसी में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मंच साझा किया और ‘अच्छे दिन’ आने का वादा करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि ‘अच्छे दिन वालों ने बुंदेलखंड में पानी के टैंकरों वाली खाली ट्रेन भेजी थी।’ झांसी के जीआईसी मैदान में कांग्रेस और सपा गठबंधन के उम्मीदवार राहुल राय के समर्थन में आयोजित सभा में मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा, सपा और भाजपा में बड़ा अंतर है। समाजवादियों ने बुंदेलखंड के लोगों की जरूरत के समय मदद की है, सूखा के मौके पर राहत पैकेट बांटे, पेंशन दे रही है, विकास कार्य हुए, मगर अच्छे दिन वाले बुंदेलखंड वासियों के साथ धोखा कर गए इसलिए सूखा पड़ने के समय उन्होंने बुंदेलखंड में पानी की खाली ट्रेन भेजी थी।

बता दें कि बुंदेलखंड में पिछले साल गर्मी में पानी की समस्या के बीच केंद्र की ओर से दूरस्थ इलाकों में पानी पहुंचाने के लिए ट्रेन भेजी गई थी, मगर उन टैंकरों में पानी नहीं था। राजनीतिक विवाद के चलते यह ट्रेन झांसी रेलवे स्टेशन पर कई दिनों तक खड़ी रही थी।

इसके बाद अखिलेश ने कहा मेरी सरकार ने कई बड़े और महत्वपूर्ण काम किए हैं, अगर अच्छे दिन वालों ने एक भी अच्छा काम किया हो तो बता दें। समाजवादियों के पास तो गिनाने के लिए कई काम हैं, मगर इन अच्छे दिन आने का वादा करने वालों ने नोटबंदी कर गरीब, किसान को लाइन में खड़ा कर दिया, कई लोगों की तो जान तक चली गई और लाइन में खड़ी एक महिला ने बच्चे तक को जन्म दे दिया। सपा सरकार ने इन प्रभावितों की मदद करते हुए दो-दो लाख रुपये दिए। मोदीजी ने क्या दिया? संवेदना के दो शब्द तक नहीं कहे।

अखिलेश ने प्रधानमंत्री की ‘मन की बात’ का जिक्र करते हुए कहा वे रेडियो और टीवी पर मन की बात करते हैं, मगर जनता नहीं समझ पाई है उनके मन की बात, हम तो पूछते हैं कब करोगे काम की बात, ढाई साल में कोई काम जमीन पर पहुंचा हो तो भी बता दो। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा विरोधियों का ब्लड प्रेशर बढ़ने की बात कहे जाने पर भी अखिलेश ने कटाक्ष किया और कहा तीसरे-चौथे चरण का मतदान हो जाने दो, भाजपा के नेताओं का ब्लड प्रेशर नापना पड़ेगा।

रविवार को फतेहपुर की रैली में प्रधानमंत्री को बार-बार पानी पीते और पसीना पोछते देखा गया। इस पर चुटकी लेते हुए अखिलेश ने कहा, जब प्रधानमंत्री को बोलते-बोलते पानी पीना पड़ जाए और सर्दी में पसीना पोछना पड़े तो समझ लो उत्तर प्रदेश की जनता कितना पसीना पुछवाएगी सात चरणों के बाद। वहीं मुख्यमंत्री ने बसपा प्रमुख मायावती पर अपने ही अंदाज में हमला बोला। उन्होंने कहा हम पत्थर वाली सरकार की बात नहीं करना चाहते, क्योंकि वह हमारी बुआ हैं, उनसे भी सावधान रहना, इन्होंने तीन बार पहले रक्षाबंधन मनाया है (बसपा-भाजपा गठबंधन), पता नहीं अब कौन सा रक्षाबंधन मनाने लगेंगे । दूसरों का तो रिश्ता बताती हैं, मगर अपना भी रिश्ता बताओ।

देखिए वीडियो - बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने मायावती को बताया यूपी चुनावों का विजेता; बाद में कहा- "गलती से लिख दिया"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App