scorecardresearch

यूपी चुनावः अखिलेश यादव ने किया पेंशन योजना का वादा, कहा- बीपीएल परिवारों को हर साल मिलेंगे 18 हजार रुपये

अपर्णा के भाजपा में शामिल होने पर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा, ”मैं उन्हें (अपर्णा यादव) बधाई दूंगा और हमें खुशी है कि हमारी समाजवादी विचारधारा का विस्तार हो रहा है।”

Akhilesh Yadav| Akhilesh Yadav Latest Photo| Akhiles Press Confrence Photo
सपा प्रमुख अखिलेश यादव (फोटो- @ANI)

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में लौटी तो समाजवादी पेंशन योजना को फिर से शुरू किया जाएगा। अखिलेश यादव ने कहा कि सपा सरकार में समाजवादी पेंशन योजना को फिर से शुरू किया जाएगा और इसके अंतर्गत जरूरतमंद महिलाओं और बीपीएल परिवार को प्रति वर्ष 18,000 रुपए की पेंशन दी जाएगी।

अखिलेश यादव ने बुधवार को लखनऊ में प्रेस कॉन्फेंस बुलाई थी जहां उन्होंने कई मुद्दों पर बात की। उन्होंने समाजवादी पेंशन को लेकर कहा कि इस योजना का लाभ एक करोड़ गरीब परिवारों तक पहुंचेगा। अखिलेश यादव ने कहा, ”सबसे ज्यादा खाते समाजवादी पार्टी की सरकार ने खुलवाए थे। सबसे अधिक बैंकों के ब्रांच समाजवादी सरकार में खुले थे और सबसे पहले डीबीटी के माध्यम से अकाउंट में सीधा पैसा पहुंचाने का काम समाजवादी सरकार में हुआ था, लेकिन झूठों से कैसे मुकाबला करें।”

समाजवादी पार्टी प्रमुख ने उनके विधानसभा चुनाव लड़ने को लेकर आ रही खबरों पर भी प्रतिक्रिया दी। वह कहां से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे, इसको लेकर सपा प्रमुख ने एक संकेत दिया। अखिलेश यादव ने कहा, ”मेरे चुनाव लड़ने का फैसला आजमगढ़ की जनता करेगी। मैं आजमगढ़ की जनता से बात करके चुनाव लड़ने का फैसला लूंगा। पार्टी जहां फैसला लेगी मैं वहां से चुनाव लडूंगा।”

इस दौरान उन्होंने भाजपा पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा, ”भाजपा से जो लोग बोल रहे हैं शिवपाल सिंह यादव उनके टच में हैं, वो समझ ले उनके नेता खुद हमारे टच में हैं। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव आज भाजपा में शामिल हो गईं। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या और यूपी भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह की मौजूदगी में अपर्णा भाजपा में शामिल हुईं।

अपर्णा के भाजपा में शामिल होने पर अखिलेश यादव ने कहा, ”मैं उन्हें (अपर्णा यादव) बधाई दूंगा और हमें खुशी है कि हमारी समाजवादी विचारधारा का विस्तार हो रहा है, मुझे उम्मीद है कि हमारी विचारधारा वहां पहुंचकर संविधान और लोकतंत्र को बचाने का काम करेगी।” अखिलेश यादव ने कहा कि नेता जी (मुलायम सिंह यादव)ने उन्हें समझने की बहुत कोशिश की।

भाजपा में जाने की अटकलों को शिवपाल ने किया खारिज: भाजपा के वरिष्ठ नेता लक्ष्मीकांत वाजपेई ने शिवपाल यादव को समझदार नेता बताया था और इशारा किया था कि वह भी बीजेपी में आ सकते हैं। इसके कुछ देर बाद, शिवपाल यादव ने ट्वीट कर इसका खंडन किया। शिवपाल सिंह यादव ने कहा, ”लक्ष्मीकांत वाजपेई के इस दावे में कोई सच्चाई नहीं है कि मैं भाजपा में शामिल हो सकता हूं, यह दावा निराधार और तथ्यहीन है। मैं अखिलेश यादव के नेतृत्व वाले समाजवादी पार्टी गठबंधन के साथ हूं।”

पढें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Upassemblyelections2022 News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.