scorecardresearch

UP Elections: 12 करोड़ वोटर्स तक पहुंचने के लिए ये है बीजेपी का पूरा प्‍लान

BJP Plan to win UP Election: सीएम योगी आदित्‍यनाथ के गाजियाबाद और अमित शाह के कैराना से चुनाव प्रचार शुरू करने के पीछे बीजेपी की खास चुनावी रणनीति है।

BJP UP, kairana issue
कैराना से पलायन के मुद्दे को उठाने की कोशिश में बीजेपी (फोटो- @AmitShah)

उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में जीत के लिए बीजेपी एक खास प्‍लान पर काम कर रही है। इसके तहत पार्टी ने यूपी के 12 करोड़ वोटर्स तक पहुंचने की योजना बनाई है। इस प्रोग्राम का नाम है- ‘हर घर भाजपा’। बीजेपी डोर टू डोर कैंपेन के तहत ऐसे 4 करोड़ घरों तक पहुंचेगी, जिन्‍हें केंद्र की मोदी सरकार और यूपी की योगी सरकार की योजनाओं का किसी न किसी रूप में फायदा मिला हो। बीजेपी नेता उन्‍हीं 4 करोड़ घरों में जाएंगे, जिनमें कम से कम 3 वोटर अवश्‍य हों। इस तरह बीजेपी को 12 करोड़ वोटर तक सीधे पहुंचने का मौका मिलेगा।

अमित शाह ने कैराना तो सीएम योगी ने गाजियाबाद से की कैंपेन की शुरुआत

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने गाजियाबाद से तो गृह मंत्री अमित शाह ने कैराना इस डोर टू डोर प्रोग्राम ‘हर घर भाजपा’की शुरुआत की। इस कार्यक्रम की शुरुआत बीजेपी ने पश्चिमी से की है। इसके पीछे दो प्रमुख कारण माने जा रहे हैं। पहला- फर्स्‍ट फेज की वोटिंग पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश से ही होनी है। दूसरा- किसान आंदोलन के चलते बीजेपी की स्थिति पश्चिमी यूपी में कमजोर मानी जा रही है, यही वजह है कि बीजेपी पश्चिमी यूपी में ध्रुवीकरण पर पूरा जोर लगा रही है, यही वजह रही कि अमित शाह ने कैराना से अपने कैंपेन की शुरुआत की।

इस तरह चलाया जा रहा ‘हर घर भाजपा’ संपर्क अभियान

बीजेपी ने ‘हर घर भाजपा’कैंपेन को यूपी विधानसभा की सभी 403 सीटों पर चलाएगी। इसके लिए यूपी बीजेपी कार्यकर्ता 1,74,000 बूथों पर जाएंगे और घर-घर प्रचार करेंगे। केंद्र और राज्‍य की बीजेपी सरकार की योजनाओं के लाभान्वितों के घरों पर जाने के लिए बीजेपी ने पांच-पांच की टीमें बनाई हैं। मतलब एक टीम में एक नेता और पांच कार्यकर्ताओं को रखा गया है। ये टीमें कोरोना के इस काल में मास्‍क और सैनिटाइजर का भी वितरण करेंगी।

बीजेपी ने अन्‍य राज्‍यों से बुलाए विशेष प्रचारक, दलित और अति पिछड़ों को करेंगे फोकस

बीजेपी ने दलित और अति पिछड़ी जातियों के इलाकों पर भी खास तौर से ध्‍यान केंद्रित किया है। पार्टी ने ऐसे इलाकों में फोकस करने के लिए अन्‍य राज्‍यों से भी विशेष प्रचारक बुलाए हैं। ये प्रचारक और कार्यकर्ता विशेष तौर से दलित और अति पिछड़ों वोटरों को लुभाने का प्रयास करेंगे।

पढें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Upassemblyelections2022 News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.