scorecardresearch

UP Election: दिल्‍ली में हेलिकॉप्‍टर रोकने का आरोप लगाने के बाद मुजफ्फरनगर पहुंचे अखिलेश, मतदान से पहले जताई जबरन वोटिंग की आशंका

मुजफ्फरनगर में अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि आज भी भाजपा आंकड़ों का खिलवाड़ कर रही है, जब भारतीय जनता पार्टी घिर जाती है तो बुनियादी मुद्दों से हटकर काम करती है।

akhilsh yadav and jayant chaudhary
जयंत चौधरी (बाएं) और अखिलेश यादव (दाएं) (फोटो- @SamajwadiParty)

समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) शुक्रवार दोपहर बाद मुजफ्फरनगर पहुंचे, जहां उन्होंने रालोद प्रमुख जयंत चौधरी के साथ साझा प्रेस वार्ता को संबोधित किया। इसके पहले, अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने आरोप लगाया था कि दिल्ली में उनके हेलिकॉप्टर को जबरन रोक दिया गया है। हालांकि, कुछ देर बाद वह दिल्ली से मुजफ्फरनगर के लिए रवाना हो गए थे। मुजफ्फरनगर में साझा प्रेस वार्ता के दौरान सपा प्रमुख ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। अखिलेश यादव ने कहा कि जैसे जिला पंचायत चुनावों में अधिकारियों ने BJP के पक्ष में वोटिंग करवाई थी, इस चुनाव में भी लोगों पर दबाव बना रहे हैं।

अखिलेश यादव ने कहा, “भाजपा का न्योता कौन स्वीकार कर रहा है, उनके हालात ऐसे हैं, सोचो उन्हें न्योता देना पड़ रहा है।” अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि BJP के लोग कोरोना फैलाने के लिए पर्चा भी (थूक लगाकर) बांट रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को चुनाव आयोग को तुरंत रोक देना चाहिए, जो ये भूल गए हों कि कोरोना फैलता कैसे है।

समाजवादी पार्टी प्रमुख ने कहा, “मैं भाजपा को याद दिलाना चहाता हूं कि अब जब चुनाव आ गया है तो अपना संकल्प पत्र पढ़ें और देंखें कि जो वादे उन्होंने किए वह पूरे हुए या नहीं। उनका हर वादा जुमला निकला, झूठे विज्ञापन दिए। मुझे उम्मीद है कि इस बार सपा-RLD की जीत होने जा रही है।”

अखिलेश यादव ने कहा कि आज भी भाजपा आंकड़ों का खिलवाड़ कर रही है, जब भारतीय जनता पार्टी घिर जाती है तो बुनियादी मुद्दों से हटकर काम करती है। उन्होंने कहा, “मुझे उम्मीद है कि इस इलाके में गंगा-जमुनी तहजीब, आपसी भाईचारा के साथ आप इस चुनाव में भी नकारात्मक सोच को नकारने का काम करेंगे।”

अखिलेश यादव ने कहा कि बेरोजगारी जैसे असल मुद्दों को भटकाने के लिए BJP अभी भी पुराने मुद्दे उठा रही है। वहीं, जयंत चौधरी और खुद को उन्होंने किसानों का बेटा बताया और कहा कि ये ‘जोड़ी’ किसानों के हक के लिए आखिरी वक्त तक लड़ेगी।

पढें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Upassemblyelections2022 News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट